क्यों है शास्त्रों में अक्षय तृतीया का दिन खास, जानें 11 विशेष बातें...


* : जानिए शास्त्रों में अक्षय तृतीया का महत्व...

प्राचीन शास्त्रों के अनुसार अक्षय तृतीया का दिन बेहद खास माना गया है। इस दिन कई महत्वपूर्ण और पवित्र घटनाएं होने का उल्लेख हमारे धार्मिक पुराणों में मिलता है। यहां पाठकों के लिए प्रस्तुत है अक्षय तृतीया से संबंधित 11 विशेष बातें...



1. इस दिन से सतयुग और त्रेतायुग का आरंभ माना जाता है।
2. इसी दिन श्री बद्रीनारायण के पट खुलते हैं।

3. नर-नारायण ने भी इसी दिन अवतार लिया था।

4. वेद व्यास एवं श्रीगणेश द्वारा महाभारत ग्रंथ के लेखन का प्रारंभ।

5. महाभारत के युद्ध का समापन का दिन।

6. श्री परशुरामजी का अवतरण भी इसी दिन हुआ था।
7. द्वापर युग का समापन दिन।

8. माता गंगा का पृथ्वी में आगमन।

9. हयग्रीव का अवतार भी इसी दिन हुआ था।

10. ब्रह्माजी के पुत्र अक्षय कुमार का आविर्भाव अर्थार्त उदीयमान।

11. वृंदावन के श्री बांकेबिहारीजी के मंदिर में केवल इसी दिन श्रीविग्रह के चरण-दर्शन होते हैं अन्यथा पूरे वर्ष वस्त्रों से ढंके रहते हैं।



वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :