होली गीत : फागुन का रंग...

Author शम्भू नाथ|
Widgets Magazine
भर-भर अंग लगाय लेहा...


 
भर-भर अंग लगाय लेहा,
फगुआ म कसर मिटाय लेहा, 
चपकाय लेहा लुकवाय लेहा।
 
हरा लाल सब साथे डाया, 
हाथ लगाय के गोदी उठाया। 
 
मन कय भसक मिटाय लेहा, 
फगुआ म कसर मिटाय लेहा।
 
पकड़-पकड़ हमका नहवाया, 
झुमरी तलइया ताल देखाया।
 
गलवा पय मुहर लगाय देहा, 
फगुआ म कसर मिटाय लेहा। 
 
कय के देखेया रौंदा रौंदी, 
आवय लागे तोहका रतौंधी। 
 
गाजा बाजा बजवाए देहा, 
फगुआ म कसर मिटाय लेहा। 
 
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।