संदीप नैयर का नया रोमांटिक उपन्यास डार्क नाइट


यह पुस्तक लन्दन में रची एक रोमांटिक/इरोटिक कहानी है जो किशोर और युवा मन की उलझनों, ग्रंथियों, उमंगों और आकांक्षाओं की कहानी कहती है।

कबीर का किशोर मन, प्रेम, रोमांस और सेक्स की फैंटेसियों से लबरे़ज है। कबीर की इन्हीं फैंटेसियों का कारवां वड़ोदरा की कस्बाई कल्पनाओं से निकलकर लंदन के महानगरीय ख़्वाबों तक पहुंचता है। लंदन के उन्मुक्त माहौल में, कबीर की कल्पनाओं को हर वो ख़ुराक हासिल है, जिसके लिए उसका मन ललकता है।

इन्हीं सतरंगी ख़ुराक पर पलकर उसकी कल्पनाएं कभी हिकमा और नेहा के प्रेम में, तो कभी टीना और लूसी के आकर्षण में ढलती हैं। मगर कबीर के लिए अपने रुपहले ख़्वाबों के हवामहल से निकलकर किशोरियों के मन और काया की भूल-भुलैया में भटकना कठिन है। यही भटकाव उसे ‘डार्क नाइट' में ले आता है; मन की एक ऐसी अवस्था, जिसमें किसी उमंग की कोई रौशनी नहीं है। इसी अंधेरे में कबीर मिलता है, एक स्पेनिश स्ट्रिप डांसर से, जो उसका परिचय के रहस्यों से करवाती है।
डार्क नाइट के रहस्यों को सुलझाते हुए ही कबीर, नारी प्रेम का संगीत छेड़ना सीखता है और इस संगीत के सम्मोहन में जकड़ती हैं, दो सुंदरियां, प्रिया और माया। प्रिया और माया के आकर्षण में डोलता कबीर, उस दोराहे के जंक्शन पर पहुंचता है, जहाँ उसकी पुरानी कल्पनाएं जीवित होना चाहती हैं। किसके प्रेम में ढलेंगी कबीर की कल्पनाएं? किसकी दहली़ज पर जाकर रुकेगा कबीर के ख़्वाबों का कारवां? माया या प्रिया? जानने के लिए पढ़ना होगा का नया डार्क नाइट।

उपन्यास : डार्क नाइट
लेखक : संदीप नैयर
मूल्य : 175 रुपए
R9 Books/redgrab books

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :