रागी को बनाएं आहार का हिस्सा, सेहत लाभ होने के अलावा सुंदरता में आएगा निखार

Health and beauty Benefits of Ragi
रागी के छोटे-छोटे दाने में कई समस्याओं का हल है, ये एक ऐसा बेहतरीन अनाज है जिसे अगर डाइट में शामिल कर लिया तो ढेरों लाभ तो होंगे, साथ ही सुंदरता में भी निखार आ जाएगा।
रागी खाने को इतना पौष्टिक बना देता है ये आप इस बात से समझ सकते हैं कि 100 ग्राम रागी में 344 मिलीग्राम कैल्शियम होता है। ये ग्लूटन फ्री भी है इसलिए सेवन ग्लूटन एलर्जी वाले भी कर सकते हैं। आइए, जानते हैं रागी को डाइट में शामिल करने के फायदे -

रागी को रोजाना की डाइट में शामिल करने से इसमें मौजूद तत्व बॉडी को रिलैक्स होने में मदद करते है साथ ही अवसाद से निकलने में भी मदद करते है।


रागी में मौजूद ऐंटीऑक्सिडेंट्स इन्सोम्निया (नींद न आना) जैसी बीमारी, में भी फायदेमंद है। रागी में मौजूद ट्रिप्टोफ़ैन और अमीनो एसिड नाम के ऐंटीऑक्सिडेंट्स रागी को सेहत के लिहाज से एक खास अनाज बना देते हैं।

3 त्वचा चमकाएं -

रागी को रोजाना खाना त्वचा को जवां और चमकदार बनाए रखने में सहायक होता है। इसमें मौजूद मिथायोनिन और लाइसिन त्वचा की कसावट को बनाए रखने और झुर्रियों को रोकने में मदद करते हैं।


रागी में मौजूद ऐल्कलाइन तत्व पाचन को दुरुस्त कर, खाने को जल्दी पचाने में मदद करता है।


रागी में पाया जाने वाला फास्फोरस हड्डियों के विकास में सहायक होता है साथ ही उन्हें मजबूत बनाने में मदद करता है।

6 माना जाता है कि रागी के छिलकों को हटा कर ही सेवन करना चाहिए, क्योंकि इसके छिलके आसानी से नहीं पचाते।

नोट : जैसी किसी भी चींज का जरूरत से अधिक सेवन नुकसानदायक हो सकता है, वैसे ही रागी को भी संतुलित मात्रा में ही लेना चाहिए। अगर आपको गुर्दे में पथरी जैसी समस्या हो तो इसका सेवन न करें, साथ ही किसी अन्य बीमारी के होने पर डॉक्टर के परामर्श के बाद ही इसका सेवन करें।



 

और भी पढ़ें :