दीपावली पर सेहत को न करें इग्नोर, जरूर अपनाएं ये 10 टिप्स

दीपावली पर घर की सजावट, तैयारियां, पूजन सामग्री, रंगोली और दीयों के अलावा मेवे मिठाइयों का दौर भी खूब चलता है। त्योहार के समय मिठाईयों से दूरी बनाना भी आसान नहीं होता, लेकिन ये टिप्स आजमाकर आप कर सकते हैं अपनी की देखभाल। त्योहार पर न बिगड़े सेहत, इसके लिए जरूर जानें 10 जरूरी टिप्स...

1
मिठाई से भले ही पूरी तरह से परहेज न करें, लेकिन अधिक मात्रा में भी मिठाई का सेवन करने से बचें। कोशिश कीजिए कि पूरी मिठाई खाने की बजाए मिठाई का टुकड़ा लेकर मुंह मीठा कर लें ताकि मिठास भी हो और सेहत भी।

2
अधिक चिकनाई वाली मिठाईयां खाने से थोड़ा सा बचें। साथ ही मावे की मिठाईयां भी नुकसान पहुंचा सकती है। इसके बदले छेने या दूध की बनी मिठाई ले सकते हैं।
3
जब भी दोस्तों या रिश्तेदारों से मिलने जा रहे हों, तो कोशिश करें कि घर से ही नाश्ता करके निकलें। इससे आपका भरा रहेगा और आप बेमतलब मिठाइयों या अन्य खाद्य पदार्थों का सेवन करने से खुद ही बचेंगे।

4
हर घर में एक-दो चम्मच या कुछ कौर से अधिक न खाएं। अन्यथा बाकी दोस्तों या रिश्तेदारों के घर आपको खाना-पीना भारी पड़ जाएगा और आप खाने से इंकार भी नहीं कर पाएंगे।
5
अपने घर पर कोशिश करें कि चिकनाई वाली मिठाइयों की अपेक्षा सूखे मेवों से अतिथियों का सत्कार करें। इससे आप भी मिठाइयों के सेवन से बच जाएंगे और मेवों से किसी को परहेज भी नहीं होता।

6
त्योहार के मौसम में मिठाइयों और पकवानों का दौर खूब चलता है, ऐसे में अपनी डाइट पहले से तय कर लें।

क्योंकि कई बार पकवानों से ही पेट भर जाता है, और आप भोजन नहीं कर पाते, जो सेहत को बिगाड़ सकता है।
7
अगर आप के मरीज हैं, तो मिठाइयों से दूरी बनाए रखने में भी आपकी भलाई है। सेहत से बढ़कर कुछ नहीं होता, और सेहत अच्छी हो तो त्योहार का उत्साह अलग ही होता है।

8
दिवाली के बाद भी भोजन में पूरी-पकवानों का दौर काफी समय तक चलता है। ऐसे में कोशिश करें कि हल्का भोजन या फिर सलाद, दही, रायता व फलों का सेवन अधिक कर पाएं।

9
त्योहार के बाद हो सके तो एक दिन कर लें। इससे आपका पेट स्वस्थ्य रहेगा और तंत्र भी नहीं गड़बड़ाएगा। उपवास में तरल पदार्थों का ही सेवन करें।

10कई सावधानियां रखने के बावजूद अगर मिठाइयां या फिर तली हुई चीजें खाने में आ ही रही हों, तो यह मान कर चलें कि अगले एक से दो महीनों तक मिठाइयों का बिल्कुल भी सेवन न करें। अन्यथा आप मोटापे के साथ ही अन्य समस्याओं के शिकार हो सकते हैं।


और भी पढ़ें :