दवा के साथ बिल्कुल न लें ये 5 तरल चीजें, वरना जान पर पड़ेगा भारी, रखें 5 सावधानी

निवेदिता भारती|
इलाज किसी भी किस्म का हो (एलोपैथी, आयुर्वेद, होम्योपैथी या यूनानी) हर एक तरीके के साथ कुछ खास सलाह आपके देते हैं, जिन्हें नजरअंदाज करना भारी भूल साबित हो सकती है। जहां एलोपैथी में आपको कम से कम परहेज बताया जाता है वहीं इलाज की अन्य विधाओं में आपको काफी ज्यादा सावधानी बरतनी होती है।

एलोपैथी में डॉक्टर द्वारा दी गईं दवाईयां खाना बेहद आसान काम है लेकिन आपसे कहां गलती हो सकती है और ये गलती कितनी भारी साबित हो सकती है, ये समझना बेहद जरूरी है। आमतौर पर एलोपैथी या अंग्रेजी दवाईयां बड़ी आसानी से पानी के साथ निगल ली जाती हैं। आपको ध्यान देना है कि इस आसान प्रक्रिया में आप कहीं भूल से भी ये 5 गलतियां न कर दें, वरना आपको इसका भारी खामियाजा भुगतना पड़ सकता है।

जानिए दवा लेने के लिए किन 5 तरल चीजों का प्रयोग बिलकुल न करें -


1. अल्कोहल या शराब के साथ दवाई : ये आपकी भारी भूल साबित हो सकती है। अधिकतर दवाईयां शराब के साथ नहीं ली जा सकतीं। दवाईयां केमिकल हैं जो अल्कोहल के साथ रिएक्शन का कारण बन सकती हैं। ऐसे में दवाई बजाए आपको फ़ायदा पहुंचाने के आपकी जान भी ले सकती है।

2. सोडा, कोल्ड्रिंक या फिज़ी ड्रिंक्स : सोडा, कोल्ड्रिंक्स या गैस वाली ड्रिंक्स के साथ दवाईयां लेने की भूल बिलकुल न करें। ऐसे में आपकी दवाई आपके लिए हानिकारक साबित हो सकती है और इसका फायदा तो आप भूल ही जाइए। यह खुद की बुलाई मुसीबत या दवाई बर्बाद करने के अलावा और कुछ भी नहीं है।


3. ज्यूस : माना कि फलों के ज्यूस, सब्जियों के ज्यूस के अच्छे होते हैं लेकिन ये दवाई के साथ लेने की चीज नहीं। शायद आपको पता न हो कि ये आपकी दवा को जहर बना सकते हैं। अगर आप बीमार हैं और आपको ज्यूस की सलाह दी गई है तो इन्हें अलग से पि‍एं, न किसी दवा के साथ। अंगूर, अनार, सेबफल, अनानास या अन्य किसी भी ज्यूस के साथ दवाई न खाएं।

4. पानी : अगर आप सर्दी या ठंड लगकर बुखार से जूझ रहे हैं तो आपका मन कुछ गर्म तरल पदार्थ के साथ दवाई लेने का होगा। इस समय थोड़ा मन को मारें और पानी को उबालकर ठंडा करने के बाद ही दवा के साथ लें। चूंकि पानी ज्यादा गर्म है आप मुंह जलने के डर से ज़रा सा घूंट लेकर दवाई निगलने की कोशिश करते हैं। इससे दवाई बीच में ही अटक जाएगी और पेट में नहीं पहुंचेगी। यह हर तरीके से नुकसानदायक है।

गर्म पानी से दवाई न लेने का एक और कारण है। अधिकतर दवाईयां आपकी सुविधा के लिए आसान पैकिंग में आपके पास आती हैं।
केमिकल को कोटिंग (एक बाहरी आवरण) देकर गोली या कैप्सूल के रूप में आपको दी जाती हैं।
गर्म पानी के कारण यह कोटिंग ख़राब हो सकती है। गर्म पानी इसे मुँह में ही खोल देगा और आपकी दवाई किसी काम की नहीं रहेगी।


5. चाय, कॉफी या अन्य गर्म तरल पदार्थ : जिस तरह पानी की गर्माहट आपकी दवाई को खराब कर रही है उसी तरह अन्य गर्म चीजें भी दवाईयों के लिए सही नहीं। बेहतर होगा आप चाय, कॉफी या किसी भी उबलती चीज के साथ दवाईयां न लें।

दवाइयों के सेवन में जरूरी सावधानियां
1. अगर पानी से दवाइयां ली जा रही हैं तो एक सिप लेकर ही दवाई निगलने की कोशिश न करें। पर्याप्त मात्रा में पानी पीजिए।

2. कुछ दवाईयां काफी गर्म होती हैं। अगर आपके डॉक्टर ने इन्हें दूध के साथ लेने का कहा है तो ऐसा ही करें।

3. जब डॉक्टर आपको दवाईयां लिख रहे हों, तब इन्हें लेने का तरीका और किस चीज के साथ लेना है, यह पूछना न भूलें।
4. दवाई लेने के लिए पतला पदार्थ चुने, गाढ़ी चीज के साथ लेने से यह आपके पेट में नहीं पहुंचेंगी।

5. अपनी दवाईयों को सोने के कम से कम 30 मिनिट पहले लेने की कोशिश करें।
6. जिन दवाईयों को निगलने की सलाह दी गई है उन्हें तोड़ने, चबाने, या चूरा करने से आपको नुकसान हो सकता है।
7. जितनी मात्रा डॉक्टर ने बताई है उतनी ही लें। ज्यादा लेने से जल्दी फायदा नहीं होगा उलटा नुकसान हो सकता है।

-->

और भी पढ़ें :