Widgets Magazine

आवाज को बनाएं मीठी, गुणकारी मुलेठी


के रूप में उपयोग की जाने वाली मुलेठी अपने आप में कई लाभप्रद गुणों को समेटे हुए हैं। आइए आपको बताते हैं, इसके अनमोल गुणों के बारे में, जो आपके लिए बेहद उपयोग साबित होंगे -

अगर आप सूखी खांसी या गले की समस्याओं से परेशान हैं, तो मुलेठी आपके काम की चीज है। काली मिर्च के साथ पीस कर मुलेठी का सेवन, सूखी खांसी में तो लाभकारी है ही, साथ ही इसे चूसने या उबालकर सेवन करने से गले की खराश, दर्द आदि में भी लाभ होता है।

मुलेठी चेहरे की खूबसूरती को बढ़ाने का काम करती है। इसे घिसकर लगाने पर चेहरे के दाग और मुंहासे ठीक हो जाते हैं, साथ ही यह आपकी त्वचा को युवा बनाए रखने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। मुलेठी रक्त को भी शुद्ध करती है जिससे त्वचा की समस्याएं नहीं होती।

दूध के साथ मुलेठी का सेवन शरीर की ताकत में वृद्धि करता है। इसके अलावा घी व शहद के साथ मुलेठी का प्रयोग करने से हृदय से संबंधित समस्याएं नहीं होती।

मुंह में छाले हो जाने की स्थिति में मुलेठी चूसना, इसके पानी से कुल्ला करना और उसे पीना बहुत जल्दी छालों से राहत देता है। साथ ही मुलेठी आवाज को मधुर और सुरीली बनाने के लिए भी उपयोग की जाती है।

पेट के अल्सर में मुलहटी का सेवन ठंडक देने के साथ ही लाभप्रद होता है। आंत की टीबी होने की स्थिति में भी मुलेठी फायदेमंद उपाय है।

त्वचा या शरीर में कहीं जल जाने पर भी मुलेठी के चूर्ण और मक्खन का लेप एक कारगर उपाय है, साथ ही यह आंखों की
रोशनी में भी वृद्धि करती है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :