दिवाली पर जरूर जानें, पटाखों से होने वाली 5 बीमारियां


दीप और रंगोली के साथ-साथ पटाखे फुलझड़ियां भी दीपावली की पहचान बन चुके हैं और पटाखों के बिना तो दिवाली बिल्कुल सूनी लगती है। लेकिन भले ही पटाखे आपके रोमांच को बढ़ाते हों, पर सेहत को भी उतना ही प्रभावित करते हैं। जानिए ऐसी 5 बीमारियां जो पटाखों के कारण हो सकती हैं - 
 
1 श्रवण शक्ति - पटाखों की तेल आवाजें जितना रोमांच पैदा करती हैं, उतनी ही आपकी श्रवण शक्ति यानि सुनाई देने की क्षमता को प्रभावित करती है। कई बार तेज आवाज से आपके कान सुन्न हो जाते हैं, तो कुछ मामलों में आप बहरे भी हो सकते हैं।
 
2 अस्थमा - पटाखों को जलाने पर उनसे निकलने वाला धुंआ श्वास के जरिए आपके फेफड़ों तक पहुंचता है और उन्हें प्रभावित करता है। खास तौर से यह आपको अस्थमा का मरीज बनाने में अहम योगदान देता है।
 
3 त्वचा - पटाखों से निकलने वाला धुंआ और आपकी त्वचा को प्रभावित करता है और त्वचा संबंधी कई समस्याओं को जन्म देता है। इससे आपको त्वचा की गंभीर समस्याएं या एलर्जी भी हो सकती हैं।
 
4 - पटाखों की तेज आवाज आपके स्वभाव पर बहुत असर डालती है। एक समय के बाद आप चिड़चिड़ापन महसूस कर सकते हैं। हो सकता है आपको सिर में तेज दर्द का सामना भी करना पड़े।
 
5 व अनिद्रा - पटाखों की तेज आवाज और प्रदूध आपको उच्च रक्तचाप का मरीज बना सकता है। इसके अलावा यह आपकी नींद और चैन भी छीन सकता है। हो सकता है आप देर रात तक सो न पाएं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :