दिवाली पर जरूर जानें, पटाखों से होने वाली 5 बीमारियां


दीप और रंगोली के साथ-साथ पटाखे फुलझड़ियां भी दीपावली की पहचान बन चुके हैं और पटाखों के बिना तो दिवाली बिल्कुल सूनी लगती है। लेकिन भले ही पटाखे आपके रोमांच को बढ़ाते हों, पर सेहत को भी उतना ही प्रभावित करते हैं। जानिए ऐसी 5 बीमारियां जो पटाखों के कारण हो सकती हैं - 
 
1 श्रवण शक्ति - पटाखों की तेल आवाजें जितना रोमांच पैदा करती हैं, उतनी ही आपकी श्रवण शक्ति यानि सुनाई देने की क्षमता को प्रभावित करती है। कई बार तेज आवाज से आपके कान सुन्न हो जाते हैं, तो कुछ मामलों में आप बहरे भी हो सकते हैं।
 
2 अस्थमा - पटाखों को जलाने पर उनसे निकलने वाला धुंआ श्वास के जरिए आपके फेफड़ों तक पहुंचता है और उन्हें प्रभावित करता है। खास तौर से यह आपको अस्थमा का मरीज बनाने में अहम योगदान देता है।
 
3 त्वचा - पटाखों से निकलने वाला धुंआ और आपकी त्वचा को प्रभावित करता है और त्वचा संबंधी कई समस्याओं को जन्म देता है। इससे आपको त्वचा की गंभीर समस्याएं या एलर्जी भी हो सकती हैं।
 
4 - पटाखों की तेज आवाज आपके स्वभाव पर बहुत असर डालती है। एक समय के बाद आप चिड़चिड़ापन महसूस कर सकते हैं। हो सकता है आपको सिर में तेज दर्द का सामना भी करना पड़े।
 
5 व अनिद्रा - पटाखों की तेज आवाज और प्रदूध आपको उच्च रक्तचाप का मरीज बना सकता है। इसके अलावा यह आपकी नींद और चैन भी छीन सकता है। हो सकता है आप देर रात तक सो न पाएं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

दुर्घटनाएं अमावस्या और पूर्णिमा पर ही क्यों होती है? आइए ...

दुर्घटनाएं अमावस्या और पूर्णिमा पर ही क्यों होती है? आइए जानते हैं यह रहस्य-
पूर्णिमा के दिन मोहक दिखने वाला और अमावस्या पर रात में छुप जाने वाला चांद अनिष्टकारी होता ...

क्या आपका बच्चा भी अंगूठा चूसता है? तो हो जाएं सावधान, जान ...

क्या आपका बच्चा भी अंगूठा चूसता है? तो हो जाएं सावधान, जान लें नुकसान
शायद ऐसा कोई व्यक्ति नहीं होगा, जिसने किसी बच्चे को अंगूठा चूसते हुए कभी न देखा हो। अक्सर ...

यही है वह मौसम जब शरीर का बदलता है तापमान, रहें सावधान, ...

यही है वह मौसम जब शरीर का बदलता है तापमान, रहें सावधान, जानें वजह और बचाव के उपाय
मौसम आ गया है कि आपको चाहे जब लगेगा हल्का बुखार। तो क्या घबराने की कोई बात है? जी नहीं, ...

प्रेशर कुकर में नहीं कड़ाही में पकाएं खाना, जानिए क्यों...

प्रेशर कुकर में नहीं कड़ाही में पकाएं खाना, जानिए क्यों...
अगर आप से पूछा जाए कि प्रेशर कुकर में या कड़ाही खाना बनाना बेहतर है तो आप तुरंत प्रेशर ...

मलाईदार नारियल क्रश, सेहत के यह 8 फायदे पढ़कर रह जाएंगे दंग

मलाईदार नारियल क्रश, सेहत के यह 8 फायदे पढ़कर रह जाएंगे दंग
आजकल मार्केट में नारियल पानी से ज्यादा नारियल क्रश को पसंद किया जा रहा है। इसकी बड़ी वजह ...

दूषित सोच से पीड़ित एक प्रसिद्ध भारतीय अर्थशास्त्री

दूषित सोच से पीड़ित एक प्रसिद्ध भारतीय अर्थशास्त्री
पिछले सप्ताह विश्व प्रसिद्ध अर्थशास्त्री अमर्त्य सेन ने मोदी सरकार की आर्थिक नीतियों के ...

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके ...

यदि पैरेंट्स के व्यवहार में हैं ये 4 बुरी आदतें तो आपके बच्चे को बिगड़ने से कोई नहीं रोक सकता!
पैरेंट्स की कुछ ऐसी आदतें होती हैं, जो वे बच्चों को सुधारने, कुछ सिखाने-पढ़ाने और नियंत्रण ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो ...

क्या आप भी संकोची हैं, अपना ही सामान मांग नहीं पाते हैं तो यह एस्ट्रो टिप्स आपके लिए है
क्या आप भी संकोची हैं, अगर हां तो यह आलेख आपके लिए है...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों ...

कैंसर की रिस्क लेना अगर मंजूर है तो ही इन 7 सामान्य लक्षणों को नजरअंदाज करें, वरना हो सकती है बड़ी परेशानी
ये बीमारी भी ऐसे ही सामने नहीं आती। इसके भी लक्षण हैं जो आप और हम जैसे लोग अनदेखा करते ...

श्री गुरु पूर्णिमा : कैसे मनाएं घर में पर्व जब कोई गुरु ...

श्री गुरु पूर्णिमा : कैसे मनाएं घर में पर्व जब कोई गुरु नहीं हो...ग्रहण के कारण इस समय कर लें पूजन
वे लोग जिन्हें गुरु उपलब्ध नहीं है और साधना करना चाहते हैं उनका प्रतिशत समाज में अधिक है। ...