ग़ालिब का ख़त-40

WDWD
क्या हुक्म होता है? अहमक़ बनकर चुप रहूँ या जो अज़-रूए-क़शफ़-ए-यक़ीनी मुझ पर हाली हुआ है वह कहूँ? अव्वल रज्जब में नवाज़िशनामा आपने कब भेजा? आख़िर मेरे पास पहुँच ही गया। जवाब भेजा अगर रवाना हुआ होता तो वह भी पहुँच गया होता। बहरहाल, मुहब्बत की गर्मी-ए-हंगामा है। यह जुमला महज़ आरायश-ए-उनवान-ए-नामा है :

उमरत दराज़ बाद के ईं हम ग़नीमत अस्त

WDWD
पेंशनदारों का इजराए पेंशन, और अहल-ए-शहर की आबादी मसकन, यहाँ उस सूरत पर नहीं है, जैसी और कहीं है। और जगह सियासत है कि मिंजुमला ज़रूरियात-ए-रियासत है, यहाँ क़हर-ए-इलाही है कि मंशा-ए-तबाही है। खास मेरे बाब में गवर्नमेंट से रिपोर्ट तलब हुई है। इबना-ए-रोज़गार हैरान हैं कि यह भी एक बात अजब हुई है।

रिपोर्ट की रवानगी की देर है, चंद रोज़ और भी क़िस्मत का फेर है। दिल्ली इलाक़ा लेफ्‍टिनेंट गवर्नर से इंकताअ़ पा गई और तहत-ए-हु इहाता पंजाब के तहत-ए-हुकूमत आ गई। रिपोर्ट यहाँ से लाहौर और लाहौर और लाहौर से कलकत्ता जाएगी। और इसी तरहफेर खाकर नवीद-ए-हुक्म मंजूरी आएगी।
9 मार्च 1859 ई. अर्ज़दाश्त,
WD|
नवाब अनवरुद्दौला सआ़दुद्दीन ख़ाँ बहादुर शफ़क़पीर-ओ-मुर्शिद,
ग़ालिब

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

मक्खन खाना शुरू कर दीजिए, यह 11 फायदे पढ़कर देखिए

मक्खन खाना शुरू कर दीजिए, यह 11 फायदे पढ़कर देखिए
मक्खन खाने के भी अपने ही कुछ फायदे हैं। अगर नहीं जानते, तो जरूर पढ़ि‍ए, और जानिए मक्खन से ...

आगे बढ़ना ही मनुष्य के जन्म की नियति है तो हम क्यों पीछे ...

आगे बढ़ना ही मनुष्य के जन्म की नियति है तो हम क्यों पीछे लौटें...
प्रकृति ने हमारे शरीर का ढांचा इस प्रकार बनाया है कि वह हमेशा आगे बढ़ने के लिए ही हमें ...

किसी और की शादी होती देख क्यों सताती है लड़कियों को अपनी ...

किसी और की शादी होती देख क्यों सताती है लड़कियों को अपनी शादी की चिंता
ज़िंदगी में एक ऐसा समय आता है जब आपको लगने लगता है कि आपके आसपास सभी की शादी हो रही है। ...

पैरेंट्स करें ऐसा व्यवहार, तो बच्चे सीख जाएंगे सच बोलना

पैरेंट्स करें ऐसा व्यवहार, तो बच्चे सीख जाएंगे सच बोलना
बच्चे बहुत नाज़ुक मन के होते हैं, बिलकुल गीली मिट्टी जैसे। उन्हें आप जो सीखाना चाहते वे ...

बस उस क्षण को जीत लेने की बात है, फिर जिंदगी खूबसूरत है

बस उस क्षण को जीत लेने की बात है, फिर जिंदगी खूबसूरत है
आत्महत्या। किसी के लिए हर मुश्किल से बचने का सबसे आसान रास्ता तो किसी के लिए मौत को चुनना ...

जैन धर्म में श्रुत पंचमी का महत्व, जानिए...

जैन धर्म में श्रुत पंचमी का महत्व, जानिए...
ज्येष्ठ माह के शुक्ल पक्ष की पंचमी तिथि को जैन धर्म में 'श्रुत पंचमी' का पर्व मनाया जाता ...

लाखों लोगों को शुद्ध पानी दे सकते हैं सहजन के बीज : शोध

लाखों लोगों को शुद्ध पानी दे सकते हैं सहजन के बीज : शोध
सहजन... मुनगा और ड्रमस्टिक नाम से पहचाने जाने वाले पेड़ का एक अन्य इस्तेमाल वैज्ञानिकों ...

यात्राएं तोड़ती हैं कंफर्ट जोन...

यात्राएं तोड़ती हैं कंफर्ट जोन...
छुट्टियां होती है तो हमारा मन यात्रा को जाने के लिए लालायित हो जाता है। आदमी का मन लगातार ...

16 जुलाई तक सूर्य रहेंगे मिथुन राशि में, कैसा होगा समय 12 ...

16 जुलाई तक सूर्य रहेंगे मिथुन राशि में, कैसा होगा समय 12 राशियों के लिए...
15 जून 2018 को सूर्य ने मिथुन राशि में प्रवेश कर लिया है। सूर्य के इस गोचर का 12 राशियों ...

देह व्यापार के आरोप में भारतीय मूल के दंपति अमेरिका में ...

देह व्यापार के आरोप में भारतीय मूल के दंपति अमेरिका में गिरफ्तार
वॉशिंगटन। भारतीय मूल के एक दंपति को अमेरिका में नामी-गिरामी लोगों के लिए कथित तौर पर देह ...