दीपावली : आपकी राशि का दिवाली पूजन कैसा होना चाहिए


दीपावली के समय सभी जातक महालक्ष्मी पूजन करते हैं लेकिन यदि जातक अपनी राशि अनुसार विधि-विधान से पूजन करें तो महालक्ष्मी प्रसन्न होती हैं और जीवन में धन-समृद्धि आती है।

आइए, जानें किस-किस राशि वाले जातक को लक्ष्मी के किस स्वरूप की और किस प्रकार से पूजन करने से इष्टतम लाभ हो सकता है।

मेष राशि के जातकों को दीपावली के दिन शुक्र यंत्र व शनि यंत्र मंत्रों से यंत्रों को अभिमंत्रित कर घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए स्थापित करने तथा नित्य पूजन करने से लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। इस राशि के जातक अगर ऋण से त्रस्त हैं तो उन्हें दीपावली से नित्य 'ऋणहर्ता मंगल स्तोत्र’’ का पाठ करना चाहिए इससे ऋण उतरने लगता है।

वृषभ राशि के जातक दीपावली की रात्रि से आरंभ कर लगातार 7 दिन, महालक्ष्मी यंत्र के सम्मुख, कमल गटटे की माला से 'ॐ महालक्ष्म्यै नमः’ मंत्र का विधिवत 11 माला जाप करने तथा सातवें दिन ब्राह्मण को भोजन कराया जाना उत्तम आर्थिक अनुकूलता लाता है। इस राशि के जातकों के लिए दीपावली से हर शुक्रवार को श्री विष्णु-लक्ष्मी का पूजन करने से धन व नाम मिलता है। इस को कम से कम एक साल तक करें।

मिथुन राशि के जातक दीपावली के दिन चांदी का 'श्री’ बनवाकर श्री लक्ष्मी के मंत्रों से पूरित कर गले में धारण करें तो निश्चित ही धनलाभ होता है। ऋद्धि सिद्धि के दाता गणेश जी और लक्ष्मी जी के संयुक्त महायंत्र की दीपावली के दिन पूजा करने के पश्चात गल्ले या तिजोरी में रखने से धन का भंडार भरा रहता है तथा परिवार में व्यक्ति प्रसन्न और सुखी रहता है।

कर्क राशि के जातक दीपावली पर सूर्य यंत्र व शुक्र यंत्र बनवा कर अभिमंत्रित करें। घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए इसे स्थापित करने, नित्य दर्शन व पूजन करने से देवी लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। कर्क राशि के जातक दीपावली के बाद पहली बार जब चंद्रमा दिखे, उस दिन से अगली पूर्णिमा तक हर रोज रात को केले के पत्ते पर दही-भात रख कर चंदमा को दिखाएं और मंदिर में पंडितजी को दान दें। इससे धन प्राप्ति के प्रबल योग बनते हैं।

सिंह राशि के जातकों के लिए दीपावली के दिन बुध यंत्र अभिमंत्रित कर घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए यंत्र को स्थापित करने, नित्य दर्शन व पूजन करने से लक्ष्मी माता की असीम कृपा प्राप्त होती है। दीपावली से शुरू कर 'ॐ नमो नारायणाय’ मंत्र का श्री विष्णु जी के सम्मुख जाप रोजाना करें, धनलाभ होता है।

कन्या राशि के जातक दीपावली के दिन चंद्र यंत्र व शुक्र यंत्र अभिमंत्रित कर घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए स्थापित कर नित्य दर्शन व पूजन करें तो आर्थिक संकट दूर होता है और मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। दीपावली को लाजावर्त नग को चांदी में जड़वाकर लक्ष्मी के मंत्रों से अभिमंत्रित कर मध्यमा अंगुली में धारण करने से जातक धनवान बनता है।

तुला राशि के जातक को दीपावली के दिन श्रीयंत्र की प्राण प्रतिष्ठा करनी चाहिए और प्रतिदिन पूजा करनी चाहिए। इससे सभी प्रकार के दुख, रोग व दरिद्रता का नाश होता है, सभी तरह के भौतिक सुख, शांति व आनन्द प्राप्त होते हैं। इसके अलावा दीपावली पर सूर्य यंत्र व मंगल यंत्र अभिमंत्रित कर घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए स्थापित करने, नित्य दर्शन व पूजन करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है व यश मिलता है।

वृश्चिक राशि के जातक को दीपावली पर गुरु यंत्र व बुध यंत्र अभिमंत्रित कर घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए स्थापित कर नित्य दर्शन व पूजन करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। मंगल यंत्र के सम्मुख दीपावली से शुरू कर नित्य 'ऋणहर्ता मंगल स्तोत्र’ का पाठ करें तो शीध्र ही ऋण उतरने लगता है और धन की बरकत होने लगती है।

धनु राशि के जातकों को दीपावली पर शनि यंत्र व शुक्र यंत्र अभिमंत्रित कर घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए स्थापित करने, नित्य दर्शन व पूजन करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। धनु राशि के जातक यदि दीपावली पूजन में 'ॐ श्रीं ह्रीं क्लीं ऐं सौं ॐ ह्रीं क ए ई ल ह्रीं ह स क ह ल ह्रीं सकल ह्रीं सौं ऐं क्लीं ह्रीं श्रीं ॐ’ मंत्र की 21 माला जाप रोजाना करें तो अक्षय धन की प्राप्ति होती है।

मकर राशि के जातक को दीपावली पर शनि व मंगल यंत्र अभिमंत्रित कर घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए स्थापित करें। इसके नित्य दर्शन व पूजन करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। दीपावली के दिन शनि यंत्र को घर की पश्चिम दिशा में नीले कपड़े के आसन पर स्थापित कर नित्य शनि के मंत्रों से जप करें व तेल का दीपक भी जलाएं, तो जातक धनी बनता है।

कुंभ राशि के जातक को दीपावली पर गुरु यंत्र अभिमंत्रित कर घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए स्थापित करें। ऐसा करने से व नित्य दर्शन व पूजन करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। दीपावली की अमावस्या की रात से पहले आने वाले शनिवार से घर की पूरी साफ सफाई शुरू कर अटाला, टूटी चीजें घर से निकाल दें और सभी सामान व्यवस्थित रखें। इससे घर में लक्ष्मी आती है।

मीन राशि के जातक को दीपावली पर शनि व मंगल यंत्र अभिमंत्रित कर घर के मंदिर में एक वर्ष के लिए स्थापित करने, नित्य दर्शन व पूजन करने से मां लक्ष्मी की कृपा प्राप्त होती है। दीपावली के दिन 11 हल्दी की गांठों को पीले कपड़े में रख कर ॐ वक्रतुण्डाय हुं’ मंत्र का 11 माला जाप कर तिजोरी में रख दिया जाए और रोजाना वहां दीया जलाया जाए तो व्यापार की उन्नति होने लगती है।



और भी पढ़ें :