बेरोज़गारी से स्वरोज़गार की कहानी है 'सुई धागा : मेड इन इंडिया'

लंबे समय से अनुष्का शर्मा और स्टारर फिल्म 'सुई धागा : मेड इन इंडिया' की चर्चा चल रही थी। कभी फिल्म की थीम, तो कभी फिल्म के पोस्टर, सभी ने दर्शकों को उत्साहित कर रखा था। हाल ही में फिल्म का भी रिलीज हो चुका है और शक नहीं कि यह दर्शकों की उम्मीद पर खरा उतरा है।

गाज़ियाबाद के रहने वाले मौजी और उसकी पत्नी ममता की यह कहानी बाकी सभी जोड़ियों की तरह ही है। शादी, घर चलाने के लिए पैसे की तंगी, छोटा शहर और छोटी नौकरी। लेकिन इस कहानी को अलग और अनोखा किया है इनके किरदारों ने। फिल्म के ट्रेलर में फिल्म की कहानी समा दी गई है जिससे दर्शक इतना तो जान गए हैं कि आखिर इसका सार क्या है।

ममता और मौजी के रुप में अनुष्का और वरुण का रिश्ता पत्नी और पति का है। अपने पति की छोटी नौकरी और बार-बार बेइज्जती से ममता परेशान है। और जैसा कि हर बार कहा जाता है हर मर्द की सफलता के पीछे एक औरत का हाथ होता है, मौजी को भी आगे बढ़ने के लिए ममता ने हिम्मत दी। बेरोज़गारी से स्वरोज़गार तक, असंभव से ना रूकने तक, यह कहानी है भारत के कपड़े बुनने की। फिल्म में ममता और मौजी खुद की एक सिलाई मशीन से अपने कपड़े बनाते हैं। अपने परिवार और दुनिया से लड़ते हैं ताकि अपने कपड़ों पर किसी और देश का नाम नहीं बल्कि भारत का नाम हो।
'सुई धागा: मेड इन इंडिया' नाम की चलने वाली इस कंपनी के नाम पर ही फिल्म का नाम रखा गया है। अनुष्का शर्मा और वरुण धवन का काम देखने लायक है। दोनों की बोली, किरदार से ज़्यादा उनका बेहद सिंपल लुक दर्शकों का दिल जीत रहा है। वरुण इसमें नाम के मुताबिक ही बिलकुल मौजी हैं, जो हर बात पर कहते हैं 'सब बढ़िया है'। फिल्म को मनीष शर्मा ने प्रोड्युस किया है। वहीं इसे लिखा और निर्देशित किया है शरत कटारिया ने। फिल्म 28 सितंबर को रिलीज़ होने वाली है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :