सिने-मेल (17 अक्टूबर 2007)

Cine-Mail
WD
प्रिय पाठको, वेबदुनिया के बॉलीवुड के सेक्शन में नित नई, मनोरंजक, आकर्षक, दिलचस्प और चटपटी सचित्र जानकारियाँ देने की हमारी कोशिश रहती है। इन्हें पढ़कर आपको कैसा लगता है, हम जानना चाहते हैं।

आपकी बॉलीवुड संबंधी प्रतिक्रिया और सुझाव हम ‘सिने-मेल’ में प्रकाशित करेंगे। हमें इंतजार है आपके ई-मेल का

‘लागा चुनरी में दाग’ फिल्म की कहानी में कोई नयापन नहीं है। इस तरह की कहानी पर कई बार फिल्म बन चुकी है। इस तरह की कहानियाँ टीवी धारावाहिकों के लिए ठीक है।
- भारती ([email protected])

‘गो’ फिल्म की समीक्षा बहुत ही अच्छे तरीके से लिखी गई है। इससे पूरी फिल्म के बारे में अंदाजा लग जाता है। आपने मेरे पैसे बचा लिए।
- रिंकी सिंह ([email protected])

‘रामगोपाल वर्मा के दामन में दाग’ पढ़ा। मुझे यह समझ में नहीं आता कि रामू हमेशा अंडरवर्ल्ड के पीछे ही क्यों पड़े रहते हैं, और भी अच्छे विषय मौजूद हैं। ‘रामगोपाल वर्मा की आग’ बेहद बुरी फिल्म थी। मैंने जिंदगी में इतनी बुरी फिल्म कभी नहीं देखी। अब यह रामू का फर्ज बनता है कि वे कुछ अच्छी फिल्में बनाएँ।
- रेखा भाटिया ([email protected])

‘नन्हे जैसलमेर’ फिल्म की समीक्षा दे।
- विपुल मेहता ([email protected])

चक दे इंडिया एक बेहतरीन फिल्म हैं। इसे हर भारतीय को देखना चाहिए। शाहरुख का अभिनय प्रभावशाली है। जय हिंद।
- कपिल गोलानी ([email protected])

मैं बहुत ही चुनिंदा फिल्म देखना पसंद करती हूँ। ‘चक दे इंडिया’ फिल्म में कहीं बनावटीपन नजर नहीं आया। सभी कलाकारों ने उम्दा अभिनय किया। यह फिल्म नारी की शक्ति को अच्छी तरह से दर्शाती है।
- मंगेशा बघेल ([email protected])


‘साँवरिया’ की नायिका : सोनम कपूर आलेख मुझे पसंद आया।
- श्रवण ([email protected])

‘शाहरुख खान : नंबर वन की पोजीशन बरकरार’ आलेख से मैं सहमत नहीं हूँ। मेरा मानना है कि बिग बी अभी भी नंबर वन हैं। शाहरुख को उनकी बराबरी करने में अभी समय लगेगा।
- फिल्म पंडित ([email protected])

हेमा मालिनी के जन्मदिन पर प्रकाशित आलेख ‘आज भी हैं हेमा मालिनी ड्रीम-गर्ल’ पढ़ा। मेरा मानना है कि हेमा श्रेष्ठ अभिनेत्री हैं। उनकी जगह कोई भी नायिका नहीं ले पाई। वे आज भी बेहद खूबसूरत लगती हैं।
- वसीम अकरम ([email protected])

‘लागा चुनरी में दाग’ मुझे अच्छी लगी। मैं वेबदुनिया में प्रकाशित सामग्री रोजाना पढ़ता हूँ। यह साइट मुझे बेहद पसंद है।
- सुमित गुगलानी ([email protected])

‘दीपिका : स्टार बनने की राह पर’ में दीपिका की खूब तारीफ की गई है। उसे सुपरस्टार का दर्जा देने की बात भी हजम नहीं होती।
समय ताम्रकर|
- शंकर मराठे ([email protected])

 
-->

और भी पढ़ें :