डांस को लेकर पापा का मजाक बनाती हूं: अथिया शेट्टी

अपनी पहली फिल्म में अथिया शेट्टी ने सलमान खान की छत्रछाया में काम किया था। अब वे अपनी दूसरी फिल्म में अनिल कपूर और अर्जुन कपूर के साथ हैं। उनकी इस फिल्म के बारे में बात कर रही हैं 'वेबदुनिया' संवाददाता रूना आशीष।
मुबारकां के बारे में अथिया कहती हैं 'मेरे किरदार का नाम है 'बिंकल' और मैं तो वहीं बस इस फिल्म के लिए हां कर बैठी थी। मैंने तो अनीसजी से पूछ भी था कि ये कौन सा नाम है? अब तो मुझे ये फिल्म करनी है, क्योंकि इसका नाम 'बिंकल' है। ये लंदन में पली-बढ़ी सरदारनी है जिसकी सोच एकदम भारतीय ही है। वो सारे रस्मोरिवाज को मानने वाली है। वो बहुत ही साधी-सादी-सी लड़की है। मेरा पूरा नाम बिंकल संधू है।
आप एक साथ दो-दो अर्जुन कपूर के साथ काम कर रही हैं। कैसे लगे वे?
मुझे अर्जुन के साथ काम करके बहुत अच्छा लगा है, क्योंकि वे बहुत ही नि:स्वार्थ होकर काम करते हैं। वे सीन के बारे में पहले सोचते हैं कि क्या ठीक लगने वाला है। सीन करते समय भी नहीं लगा कि वे अपने परफॉर्मेंस पर ध्यान दे रहे हैं। मैं हमेशा कहती हूं कि अर्जुन किसी लीजेंड से कम नहीं है। उसे फिल्म के बारे में सब कुछ आता है और मुझे उसे देखकर समझ में आता था कि सब कुछ आने से क्या फायदा होता है।
आपको अनिल कपूर कैसे लगे?
अनिल कपूर मेरे फेवरेट कपूर हैं। एक तरफ वे और उनकी एनर्जी है और दूसरी तरफ अर्जुन, इलियाना, मैं और अनीस सर सबकी एनर्जी है। वे बहुत प्रोफेशनल हैं। लगभग 36 साल से हैं वे इस इंडस्ट्री में। वे ऐसे एक्टर हैं, जो सिर्फ नया सीखना चाहते हैं। अपने आपको आगे बढ़ाना चाहते हैं। मुझे तो अनीस सर से भी बहुत कुछ सीखने को मिला, क्योंकि अगर एक निर्देशक साफ तरीके से सोचता है तो एक एक्टर को काम करना बहुत आसान हो जाता है। वे तो मुझसे पूछते थे कि 'बिंकल' को लेकर आप क्या सोचते हैं।
आपकी पहली और दूसरी फिल्म में बहुत अंतर हो गया?
मैं हमेशा से मानती रही हूं कि आपकी पहली फिल्म आपको चुनती है और दूसरी फिल्म और करियर आप चुनते हैं। एक एक्टर के लिए जरूरी है कि उसमें धीरज हो। इस बीच मुझे कई सारे ऑफर्स आ रहे थे लेकिन मुझे उन्हें सुनकर कोई मजा नहीं आ रहा था।

आपके पिता सुनील शेट्टी भी 'ए जेंटलमेन' के साथ एक अरसे बाद दिखाई दे रहे हैं?
मेरे पापा 'ए जेंटलमेन' के साथ वापसी कर रहे हैं और वह मेरी वजह से मुमकिन हुआ है। मैंने उन्हें जोर देते हुए कहा कि आपको ये फिल्म करनी चाहिए। मैं तो मेरे अपने पापा के साथ भी काम करना चाहती हूं। मैं तो मेरे पापा को घर पर जाकर कहती हूं कि अब थोड़ा तो उम्रदराज दिखना शुरू करो, अब आप मेरे पापा हैं। वे कितने फिट हैं ना! हाल ही में मैंने सोशल नेटवर्किंग साइट पर अपना पिक्चर डाला था। सुबह 7 बजे का था, जहां मेरे चेहरे पर नींद थी। वे बिलकुल ताजातरीन लग रहे थे और मैंने कैप्शन दिया था कि 'जब आपके पैरेंट्स आपसे बेहतर दिखते हों।' मेरे पापा के लिए जितनी भी स्क्रिप्ट्स आती है, सब मैं देखती और पढ़ती हूं। बस, अपनी स्क्रिप्ट्स उन्हें नहीं पढ़ने देती।
आपकी अपने पिता से कैसी दोस्ती है?
मैं हमेशा अपने पापा की टांग खींचती रहती हूं। उनके डांस को लेकर हमेशा उनका मजाक बनाती रहती हूं। वे इतने बुरे डांसर नहीं हैं। वे कई बार घर के फंक्शंस पर भी डांस करते हैं लेकिन फिल्म में पता नहीं क्या हो जाता है? अभी पिछले हफ्ते जब मैं और आहान यूट्यूब पर देख रहे थे तो हमने उनका 'हाय हुकु हाय...' गाना देखा और फिर उसके बाद जैसे ही हमारे रूम में पापा आए, तो हमने उन्हें खूब चिढ़ाया।
'मुबारकां' डबल रोल वाली फिल्म है, तो आपने कौन सी डबल रोल वाली फिल्म देखी है?
डबल फिल्मों में मुझे गोपी-किशन पसंद है। उसमें मेरे दो-दो बाप थे ना! और इन दिनों में मुझे 'मुबारकां' पसंद है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :