भारतीय जासूसों पर बनी 13 बेस्ट बॉलीवुड फिल्में

जासूसों को हमेशा से ही देश के लिए जान लेने और देने वाला ऐसा देशभक्त माना जाता है जो अपनी जान की परवाह न करते हुए अकेले ही दुश्मनों के मंसूबे नाकाम कर देता है। फिलहाल कुलभूषण जाधव को पाकिस्तान द्वारा रॉ का एजेंट बता कर फांसी की सजा सुनाई गई है। कुछ ऐसा ही के साथ भी हुआ था। सरबजीत पर फिल्म भी बनी थी, जिसमें रणदीप हुड्डा लीड रोल में थे। सरबजीत पर पाकिस्तान ने वर्षों तक जुल्म ढाए और उनके जीवन पर बनी फिल्म आपको दहला देती है। पाकिस्तान में कैद सरबजीत सिंह हो या रवींद्र कालिया या फिर भारतीय खुफिया एजेंसी रॉ, आईबी में काम करने वाले अनाम एजेंटों पर बॉलीवुड में कई फिल्में बनी हैं। ये सीक्रेट एजेंट्स दुश्मन देश की जासूसी करते हैं और उनके षड्यंत्र को विफल करते हैं या फिर दुश्मनों को मार गिराते हैं। इस तरह की फिल्मों में हिट होने का अपार मसाला मौजूद रहता है। हाल ही के दिनों में कई
फिल्में ऐसी बनी हैं जो वास्तविकता के निकट भी थी। वैसे इस तरह के प्रयास बहुत पहले से हो रहे हैं।

मद्रास कैफे
सुजीत सरकार की मद्रास कैफ एक रॉ एजेंट पर बनी बेहतरीन फिल्म है। इस पॉलिटिकल थ्रिलर का ताना-बाना पूर्व प्रधानमंत्री राजीव गांधी की हत्या और उसमें लिट्टे की भूमिका के इर्दगिर्द बुना गया है। जॉन अब्राहम के करियर की इसे सबसे बेहतरीन फिल्म कहा जा सकता है। फिल्म में बारीकी से हर बात को पेश किया गया है और यह वास्तविकता के निकट लगती है।

डी डे
इस फिल्म का निर्देशन निखिल आडवाणी ने किया था। इरफान खान ने इसमें रॉ के स्पेशल एजेंट की भूमिका निभाई थी जो पाकिस्तान में डी कंपनी के हर कदम पर नजर रखता है। इस फिल्म को चर्चा तो खूब मिली थी, लेकिन सफलता नहीं मिली। थ्रिलर के शौकीनों को यह फिल्म पसंद आई थी।

आंखें
धर्मेन्द्र को लेकर रामानंद सागर ने बड़े बजट की फिल्म 'आंखें' बनाई जिसमें जासूसी को प्रमुखता से दर्शाया गया। शानदार विदेशी लोकेशन, ही-मैन धर्मेन्द्र और जानदार स्क्रिप्ट के कारण यह फिल्म सुपरहिट रही और उस दौर में यह अनूठे विषय के कारण खासी सराही गई।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :