जन्माष्टमी पर इन खास मंत्रों से करें श्रीकृष्ण की आराधना

janmashtami krishna mantra

* इस जन्माष्टमी पर अपने जन्म लग्नानुसार करें कृष्ण की भक्ति
जो सिर्फ अपना भला चाहे वो दुर्योधन, जो अपनों का भला चाहे वो युधिष्ठिर और जो संसार का भला चाहे वो श्रीकृष्ण। ऐसे हमारे प्रभु श्रीकृष्ण का जन्म भादौ की कृष्ण पक्ष अष्टमी 3 सितंबर, सोमवार को आ रहा है।

प्रभु श्रीकृष्ण की अनन्य कृपा प्राप्ति के लिए अपने जन्म लग्नानुसार भक्ति करें।

मेष लग्न : ॐ मयूराय नम:

वृषभ लग्न : ॐ केशवाय नम:
मिथुन लग्न : ॐ परब्रम्ह नम:

कर्क लग्न : ॐ निर्गुणाय नम:

सिंह लग्न : ॐ रविलोचनाय नम:

कन्या लग्न : ॐ पुरुषोत्तम नम:

तुला लग्न : ॐ साक्षी नम:

वृश्चिक लग्न : ॐ सहसाकाश नम:
धनु लग्न : ॐ सहसाजिताय नम:

मकर लग्न : ॐ पद्महस्ताय नम:

कुंभ लग्न : ॐ सहस्रपाद नम:

मीन लग्न : ॐ निरंजनाय नम:

विशेष : कृष्ण जन्माष्टमी के दिन 'ॐ नमो भगवते वासुदेवाय' मंत्र का जप करना अनन्य फल देने वाला होता है।

कृष्ण जन्माष्टमी पर कृष्णाष्टक का पाठ करना भी विशेष पुण्यदायी होता है व इसका पाठ करने से भगवान श्रीकृष्ण प्रसन्न होते हैं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :