मंगलमूर्ति श्रीगणेश को प्रसन्न करने के 7 सरल मंत्र...


 
 
* विघ्नहर्ता श्रीको अर्घ्य चढ़ाने का पवित्र मंत्र... 
 
विघ्नहर्ता भगवान श्रीगणेश जी की कृपा द्वारा विद्या, धन प्राप्ति, दारिद्रय नाश एवं सभी विघ्नों का नाश किया जा सकता है। यहां पाठकों के लिए प्रस्तुत हैं भगवान श्रीगणेश जी के तुरंत फलदायी मंत्र एवं विघ्नहर्ता गणेश को अर्घ्य चढ़ाने का पावन मंत्र।  
 
इस मंत्र से दें विघ्नहर्ता श्रीगणेश को अर्घ्य : - 
 
'गणेशाय नमस्तुभ्यं सर्वसिद्धि प्रदायक।
संकष्टहर मे देव गृहाणर्धं नमोस्तुते।
कृष्णपक्षे चतुर्थ्यां तु सम्पूजित विधूदये। 
क्षिप्रं प्रसीद देवेश गृहार्धं नमोस्तुते।'
 
गणेशजी के तुरंत फलदायी मंत्र :
 
(1) 'ॐ गं गणपतये नम:।' 
 
(2) 'ॐ वक्रतुण्डाय हुं।' 
 
(3) 'हस्ति पिशाचि लिखे स्वाहा।'
 
(4) 'लम्बोदराय विद्महे महोदराय धीमहि, तन्नो दन्ती प्रचोदयात्।'
 
(5) 'महोत्कटाय विद्महे वक्रतुण्डाय धीमहि तन्नो दन्ती प्रचोदयात्।'
 
(6) 'तत्पुरुषाय विद्महे वक्रतुण्डाय धीमहि तन्नो दन्ती प्रचोदयात्।'
 
(7) 'एकदन्ताय विद्महे हस्तिमुखाय धीमहि तन्नो दन्ती प्रचोदयात्।' >  

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine

और भी पढ़ें :