Widgets Magazine

हर बीमारी का इलाज है रंगबिरंगे रत्नों के पास....

 
>
> * हमेशा सेहतमंद रहने के लिए अपनी बीमारी के अनुसार धारण करें ये रत्न  सेहत के लिए धारण करें इन रत्नों को, पढ़ें 20 अनमोल रत्नों के बारे में
जहां भाग्योन्नति में सहायक होते हैं वहीं रत्नों को कुंडली अनुसार ज्ञान प्राप्त करके धारण करने से जातक को रोगों से लड़ने की शक्ति भी देते हैं। में द्वारा के अनेक प्रयोग बताए गए हैं। अत: रत्नों में ग्रहों की ऊर्जा होती है, जो जातक को बल भी प्रदान करती है। अत: रोग अनुसार रत्न धारण करें, जैसे- 
 
यह है रोगों को नष्ट करने वाले रत्नमणि

रत्न  रोग 
1. पन्ना- स्मरण शक्ति के लिए धारण करें।
2. नीलम- गठिया, मिर्गी, हिचकी एवं नपुंसकता को नष्ट करता है।
3. फिरोजा- दैविक आपदाओं से बचाने के लिए फिरोजा धारण करें।
4. मरियम-  बवासीर या बहते हुए रक्त को रोकने के लिए।
5. माणिक-  रक्तवृद्धि के लिए।
6. मोती-  तनाव व स्नायु रोगों के लिए।
7. किडनी स्टोन-  किडनी रोग निवारण के लिए।
8. लाडली-  हृदयरोग, बवासीर एवं नजर रोग के लिए धारण कर सकते हैं।
9. मूंगा, मोती-  मुंहासों के लिए धारण करें।
10. पन्ना, नीलम, लाजवर्थ-  पेप्टिक अल्सर में उपयोगी है।
11. पुखराज, लाजवर्थ, मूनस्टोन-  दांतों के लिए।
12. माणिक, मोती, पन्ना-  सिरदर्द के लिए।
13. गौमेद या मूनस्टोन-  गले की खराबी के लिए।
14. माणिक, मूंगा, पुखराज-  सर्दी, खांसी, बुखार जिसे बार-बार होता है, वे धारण करें।
15. मूंगा, मोती, पुखराज-  बार-बार दुर्घटना होने पर धारण करें। दुर्घटना से बचने के लिए।
16. तांबे की चेन-  कुकुर खांसी के लिए।
17. मूंगा, मोती, पन्ना-  मूंगा, मोती, पन्ना एक ही अंगुठी में मोतियाबिंद को नष्ट करने के लिए धारण करें।
18. मूंगा, पुखराज- 
कब्ज मुक्ति के लिए।
19. पन्ना, पुखराज, मूंगा-  पन्ना, पुखराज, मूंगा एक ही अंगुठी में ब्रेन ट्यूमर के लिए धारण करें।
20. मोती, पुखराज-  चांदी की चेन में हर्निया के लिए धारण करें।
 
रत्नों को अनेक बीमारियों को नष्ट करने के लिए व स्वास्थ्य बल प्राप्ति के लिए धारण करते हैं। कोई भी रत्न शुभ-अशुभ दोनों प्रकार से फल प्रदान करता है। अत: अधिक सुखफल प्राप्ति के लिए अपनी कुंडली किसी प्रतिष्ठित ज्योतिषी को दिखाकर रत्न ही धारण करें।



Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :

राशिफल

शुक्रवार के 11 प्रभावकारी उपाय एवं टोटके देंगे मनोवांछित ...

शुक्रवार के 11 प्रभावकारी उपाय एवं टोटके देंगे मनोवांछित फल...
कई बार ग्रह-नक्षत्र या दोष की वजह से व्यक्ति को मेहनत का पूर्ण फल प्राप्त नहीं हो पाता। ...

23 अप्रैल को है मां बगलामुखी जयंती, जानें कैसे करें

23 अप्रैल को है मां बगलामुखी जयंती, जानें कैसे करें साधना...
सोमवार, 23 अप्रैल 2018 को बगलामुखी जयंती है। मां बगलामुखी की साधना शत्रु बाधा से मुक्ति ...

बृहस्पतिवार को करें मंगल दोष के ये उपाय, दूर होगा तनाव...

बृहस्पतिवार को करें मंगल दोष के ये उपाय, दूर होगा तनाव...
ज्यादातर ज्योति‍षी का मानना है कि अगर कुंडली में मंगल कमजोर हो तो गुरुवार का दिन प्रतिकूल ...

सोना-चांदी शुभ क्यों होते हैं पूजा में...

सोना-चांदी शुभ क्यों होते हैं पूजा में...
चांदी को भी पवित्र धातु माना गया है। सोना-चांदी आदि धातुएं केवल जल अभिषेक से ही शुद्ध हो ...

वैशाख शुक्ल पक्ष का पाक्षिक पंचांग : 30 अप्रैल को है बुद्ध ...

वैशाख शुक्ल पक्ष का पाक्षिक पंचांग : 30 अप्रैल को है बुद्ध पूर्णिमा
'वेबदुनिया' के पाठकों के लिए 'पाक्षिक पंचाग' श्रृंखला में प्रस्तुत है वैशाख माह के शुक्ल ...

तंत्र की देवी है मां बगलामुखी, हर आपदा से बचाता है उनका ...

तंत्र की देवी है मां बगलामुखी, हर आपदा से बचाता है उनका मंत्र
मां बगलामुखी यंत्र चमत्कारी सफलता तथा सभी प्रकार की उन्नति के लिए सर्वश्रेष्ठ माना गया ...

मां बगलामुखी की इस उपासना से मिलेगी चमत्कारी शक्तियां

मां बगलामुखी की इस उपासना से मिलेगी चमत्कारी शक्तियां
बगलामुखी साधना के दौरान हवन में दूधमिश्रित तिल व चावल डालने पर धन, संपत्ति और ऐश्वर्य की ...

जब राजा विक्रमादित्य को दर्शन दिए मां बगलामुखी ने, पढ़ें

जब राजा विक्रमादित्य को दर्शन दिए मां बगलामुखी ने, पढ़ें कथा
राजा विक्रमादित्य ने मां बगलामुखी की आराधना शुरू कर दी। लेकिन माता ने दर्शन नहीं दिए। ...

22 अप्रैल 2018 का राशिफल और उपाय...

22 अप्रैल 2018 का राशिफल और उपाय...
मेष राशि के लिए आज का कल्याणकारी उपाय- 'ॐ अं अंगारकाय नम:' का जप करें। आज का भविष्य : ...

22 अप्रैल 2018 : आपका जन्मदिन

22 अप्रैल 2018 : आपका जन्मदिन
दिनांक 22 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 4 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति जिद्दी, कुशाग्र ...