Widgets Magazine

शनिदेव के गोचर का क्या होगा आप पर प्रभाव, पढ़ें 12 राशियां...

Author आचार्य राजेश कुमार|

 
 
 
सूर्य पुत्र समस्त ब्रह्मांड के न्यायाधीश कहे जाते हैं। शनि का गोचर, साढ़ेसाती और महादशा का हमारे जीवन में बहुत महत्व होता है, क्योंकि इसके प्रभाव से मनुष्य के जीवन में बड़े परिवर्तन होते हैं, हालांकि ये परिवर्तन सुखद और दुखद दोनों हो सकते हैं। इसका फल आपकी राशि और कुंडली में शनि की चाल और स्थिति से तय होता है। 
 
साल की शुरुआत में शनि वृश्चिक राशि में थे। 21 जनवरी को शनि वृश्चिक राशि से निकलकर धनु राशि में गोचर कर रहे हैं तथा 6 अप्रैल से धनु राशि में वक्रीय गति में हैं और 25 अगस्त तक धनु राशि में स्थित रहेंगे। 21 जून, बुधवार से शनि पुन: वृश्चिक राशि में आ गए हैं। इसके बाद दोबारा 26 अक्टूबर, गुरुवार को धनु राशि में प्रवेश करेंगे।

4 दिसंबर, सोमवार को सूर्य के निकट होने से शनि ग्रह का प्रभाव कम हो जाएगा और यह 8 जनवरी 2018, सोमवार तक इसी अवस्था में रहेगा। शनि ग्रह के इस संचरण का प्रभाव सभी राशियों पर पड़ेगा। हालांकि प्रत्येक राशि पर इसका असर भिन्न-भिन्न होगा।
 

आइए जानें 12 राशियों पर क्या होगा प्रभाव... 
 
 


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine
Widgets Magazine