मंगल का कन्या राशि में आगमन, कैसा होगा आप पर असर


* मंगल का और
आपका भविष्य...
मंगल ने 2017, शुक्रवार को दोपहर 4 बजे कन्या राशि में प्रवेश कर लिया है। मंगल अतिशत्रु होकर बुध की कन्या राशि में 30 नवंबर तक रहेगा। मंगल अपनी राशि मेष राशि को अष्टम दृष्टि से देखेगा। किस राशि के लिए क्या असर लेकर आएगा यह राशि परिवर्तन, आइए जानते हैं।

मेष राशि : भाग्य में काफी परिश्रम द्वारा लाभ मिलेगा। बाहरी संपर्क से लाभ रहेगा, यात्रा के योग बनेंगे। परिश्रम द्वारा साहस में वृद्धि, प्रभाव बढ़ेगा। शत्रुपक्ष प्रभावहीन होंगे।

वृषभ राशि : सावधानी रखकर चलें। स्वास्थ्य ठीक रहेगा। आय में वृद्धि होने के संकेत हैं। बाहरी सहयोग, यात्रा से लाभ भी होगा। संतान के कार्य में सावधानी रखना होगी। विद्यार्थी वर्ग संभलकर चलें।

मिथुन राशि : पारिवारिक मामलों में कष्ट रहेगा। मकान संबंधित समस्या रहेगी। आर्थिक प्रयासों में जुझना पड़ेगा। शत्रु प्रभावहीन होंगे। नौकरीपेशा संभलकर चलें। लाभ मिलेगा, पर परिश्रम से।

कर्क राशि : शत्रुओं पर प्रभावी, भाग्य बल में वृद्धि। बेरोजगार, रोजगार पाने में समर्थ होंगे। व्यापार-व्यवसाय से जुड़े लाभान्वित होंगे। किसी महत्वपूर्ण कार्य में पिता का सहयोग मिलेगा।

सिंह राशि : वाणी का प्रभाव बढ़ेगा। पारिवारिक समस्याओं का समाधान होगा। भाग्य में अनुकूल स्थिति रहेगी। जमीन-जायदाद संबंधित कार्य होंगे। मातृ पक्ष का सहयोग मिलेगा।

कन्या राशि : अति साहस नुकसानप्रद रह सकता है। दैनिक व्यवसाय में लाभ होगा। दांपत्य जीवन में सुखद स्थिति रहेगी। पारिवारिक मामलों में सहयोग मिलेगा। स्वास्थ्य सामान्यत: ठीक रहेगा।

तुला राशि : वाणी पर संयम रखकर चलें। कुटुम्ब के लोगों से संभलकर रहें। स्त्री पक्ष के कार्यों में सावधानी रखें। पराक्रम अधिक करना होगा तभी कार्य बनेंगे। शत्रुवर्ग प्रभावहीन होंगे।

वृश्चिक राशि :
आर्थिक मामलों में प्रयत्नपूर्वक सफलता मिलेगी। संतान पक्ष के मामलों में सहयोग देना होगा। मनोरंजन के साधनों पर खर्च होगा। शत्रु पक्ष नष्ट होंगे। कर्ज की स्थिति में सुधार होगा।

धनु राशि : शासकीय मामलों में अनुकूल स्थिति पाएंगे। बाहरी मामलों में सफलता मिलेगी। संतान पक्ष से प्रसन्नता पाएंगे। नौकरीपेशा व्यक्तियों के लिए समय सुखद रहेगा। प्रभाव में वृद्धि होगी, साहस बढ़ेगा। महत्वाकांक्षाएं पूरी होंगी।

मकर राशि : भाग्य अनुकूल रहेगा। आर्थिक मामलों में सफलता मिलेगी। संतान पक्ष के कार्य बनेंगे। पराक्रम बढ़ेगा, भाइयों का सहयोग मिलेगा। पारिवारिक मामलों में खर्च होगा। बाहरी संबंधों में सुधार होगा। यात्रा के योग बनेंगे।

कुंभ राशि : वाहनादि सावधानी से चलाएं। नौकरीपेशा के लिए समय सतर्कता बरतने का है। व्यापार-व्यवसाय में उतार-चढ़ाव रहेगा। जोखिम के मामलों में धन लगाने से बचना होगा। यात्रा संभलकर करें। वाणी में संयम रखें व काम से काम रखकर चलें।

मीन राशि : दांपत्य में मधुरता रहेगी। विवाह आदि के कार्य बनेंगे। भाग्य में अनुकूल स्थिति रहेगी। धन की बचत के योग भी हैं। कुटुम्बियों का सहयोग मिलेगा। नौकरीपेशा व व्यवसायी भी प्रगति करेंगे।

मंगल जिन्हें अशुभ परिणाम देता है वे लोग सवा पाव खड़े मसूर लाल कपड़े में बांधकर किसी मंदिर में रख आएं। लाल मुंह के बंदरों को गुड़-चना खिलाएं।


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

राशिफल

गुप्त नवरात्रि आरंभ, जानिए इस नवरात्रि में कैसे की जाती है ...

गुप्त नवरात्रि आरंभ, जानिए इस नवरात्रि में कैसे की जाती है देवी पूजा
आषाढ़ मास की 'गुप्त-नवरात्रि' प्रारंभ होने जा रही है। आइए, जानते हैं कि इस गुप्त नवरात्रि ...

क्या देवता भी होते हैं बीमार, जी हां जगन्नाथ यात्रा से ...

क्या देवता भी होते हैं बीमार, जी हां जगन्नाथ यात्रा से पूर्व हर वर्ष देवता को आता है बुखार
चौंकिए मत, हमारे देश में भगवान भी रुग्ण यानी बीमार होते हैं और उनकी भी चिकित्सा की जाती ...

Gupt Navratri 2018 : जानें महत्व, सरल पूजा विधि एवं ...

Gupt Navratri 2018 : जानें महत्व, सरल पूजा विधि एवं घटस्थापना मुहूर्त
नवरात्रि में देवी का पूजन आह्वान प्रात:काल ही श्रेष्ठ रहता है अत: अभिजीत मुहूर्त में ...

जीवन में खुशहाली चाहिए तो हलहारिणी अमावस्या पर आजमाएं ये 10 ...

जीवन में खुशहाली चाहिए तो हलहारिणी अमावस्या पर आजमाएं ये 10 सरल उपाय
आषाढ़ मास में पड़ने वाली अमावस्या को आषाढ़ी तथा हलहारिणी अमावस्या कहा जाता है। इस वर्ष यह ...

सावन के महीने में बढ़ेगा आपका सौभाग्य ऐसे करें भोलेनाथ का ...

सावन के महीने में बढ़ेगा आपका सौभाग्य ऐसे करें भोलेनाथ का अभिषेक, पढ़ें 10 प्रकार
श्रावण या सरल शब्दों में सावन मास भगवान शिव का अत्यंत प्रिय महीना है। वर्ष 2018 में 28 ...

देवताओं की रात्रि प्रारंभ, क्यों नहीं होते शुभ कार्य कर्क ...

देवताओं की रात्रि प्रारंभ, क्यों नहीं होते शुभ कार्य कर्क संक्रांति में...
कर्क संक्रांति में नकारात्मक शक्तियां प्रभावी होती हैं और अच्छी और शुभ शक्तियां क्षीण हो ...

सूर्य कर्क संक्रांति आरंभ, क्या सच में सोने चले जाएंगे सारे ...

सूर्य कर्क संक्रांति आरंभ, क्या सच में सोने चले जाएंगे सारे देवता... पढ़ें पौराणिक महत्व और 11 खास बातें
सूर्यदेव ने कर्क राशि में प्रवेश कर लिया है। सूर्य के कर्क में प्रवेश करने के कारण ही इसे ...

यदि आप निरोग रहना चाहते हैं, तो पढ़ें यह चमत्कारिक मंत्र

यदि आप निरोग रहना चाहते हैं, तो पढ़ें यह चमत्कारिक मंत्र
भागदौड़ भरी जिंदगी में आजकल सभी परेशान है, कोई पैसे को लेकर तो कोई सेहत को लेकर। यदि आप ...

ज्योतिष सच या झूठ, जानिए रहस्य

ज्योतिष सच या झूठ, जानिए रहस्य
गीता में लिखा गया है कि ये संसार उल्टा पेड़ है। इसकी जड़ें ऊपर और शाखाएं नीचे हैं। यदि कुछ ...

श्रावण मास में शिव अभिषेक से होती हैं कई बीमारियां दूर, ...

श्रावण मास में शिव अभिषेक से होती हैं कई बीमारियां दूर, जानिए ग्रह अनुसार क्या चढ़ाएं शिव को
श्रावण के शुभ समय में ग्रहों की शुभ-अशुभ स्थिति के अनुसार शिवलिंग का पूजन करना चाहिए। ...