बुध का राशि परिवर्तन, जानें किसका बदलेगा भाग्य (पढ़ें 12 राशियां)


 
 
 
 
* तक कन्या राशि में रहेगा बुध, ऐसा रहेगा प्रभाव... 
 
ज्ञान, बुद्धि, विवेक के कारक बुध ग्रह ने 27 सितंबर की मध्यरात्रि 1 बजे सिंह राशि को त्यागकर अपनी उच्च कन्या राशि में प्रवेश किया हैं। बुध यहां (कन्या में) 14 अक्टूबर तक रहेंगे, इसके बाद अगली राशि तुला में प्रवेश करेंगे। कन्या राशि में 17 दिनों तक रहने वाला बुध का परिणाम प्रत्येक राशि वाले जातक के लिए कैसा रहेगा, आइए जानते हैं 12 राशियों पर प्रभाव... 
 
मेष- बुध का कन्या राशि में गोचर मेष राशि वालों के लिए तृतीयेश व षष्टेश होकर षष्ट भाव से भ्रमण करने से परिश्रम द्वारा रुके हुए कार्य, व्यापारिक कार्य बनेंगे। आर्थिक स्थिति में मजबूती आएगी। लेखन और साहित्य से जुड़े लोगों को कोई बड़ा लाभ मिल सकता है।>  
 
वृषभ- वृषभ राशि के जातक बुध का उच्च में होना द्वितीयेश व पंचमेश होकर पंचम से भ्रमण करने से कुछ चिंता हो सकती है। आर्थिक मामलों में सावधानी बरतें। प्रेम संबंधित समस्याओं का समाधान होगा। संतान पक्ष के कार्य बनेंगे।
 
मिथुन- इस राशि का स्वामी भी बुध है। बुध उच्च का होने से समय अनुकूल रहेगा। पारिवारिक स्थिति अनुकूल रहेगी। संबंधों में प्रगाढ़ता आएगी। स्वयं का आत्मविश्वास और पराक्रम में वृद्धि होगी। शत्रु वर्ग परास्त होंगे। सुख में वृद्धि होगी। मातृपक्ष से लाभ होगा।>  
 
कर्क- कर्क राशि के जातकों के लिए बुध का गोचरीय भ्रमण तृतीय पराक्रम भाव से उच्च का होने से पराक्रम में वृद्धि होगी। भाई-बंधुओं से संबंधों में सुधार आएगा। मानसिक सुख-शांति प्राप्त होगी। आर्थिक स्थिति में कोई बड़ा बदलाव आने के संकेत हैं। बाहरी व्यक्तियों से सहयोग मिलेगा। यात्रा संभव है, जो लाभदायक रहेगी।
 
सिंह- इस राशि वालों के लिए बुध का गोचरीय भ्रमण द्वितीय धनभाव से होने से सुख-सौभाग्य में वृद्धि होगी। सूर्य के साथ बुध होने से आपकी बौद्धिक क्षमता में वृद्धि होगी, मान-सम्मान, पद-प्रतिष्ठा बढ़ेगी। प्रॉपर्टी और निवेश संबंधी कार्यों से अच्छा लाभ मिलने की संभावना है।  
 
कन्या- स्वराशि अत्यंत लाभकारी होकर शुभ रहेगा। लग्नस्थ बुध के कारण धार्मिक व आध्यात्मिक कार्यों में रुचि लेंगे। आपके व्यवहार में मधुरता आएगी और शत्रुओं पर प्रभाव बढ़ेगा। नवीन कार्ययोजना में सफल होंगे। स्थापित करने के लिए ये दिन शुभ हैं। वाहनादि खरीदने के योग हैं। 
 
तुला- बुध इस राशि में गोचर से द्वादश से भ्रमण करेगा, इस कारण बाहरी संबंधों में सुधार रहेगा। भाग्य साथ देने से आपके कार्य में आ रही बाधा दूर होगी। धर्म-कर्म में आस्था बढ़ेगी। पिता का सहयोग मिलेगा। नौकरीपेशाओं के लिए समय सुख रहेगा।
 
वृश्चिक- इस राशि वालों के लिए बुध का गोचरीय भ्रमण एकादश भाव से होने से आर्थिक मामलों में स्थिति ठीक रहेगी। साझेदारी के कार्यों से लाभ मिलेगा। स्वास्थ्य के मामलों में सावधानी रखना होगी। 
 
धनु- इस राशि वाले के लिए बुध का गोचरीय भ्रमण होने से व्यापार-व्यवसाय के क्षेत्र में सफलता मिलेगी। नौकरीपेशाओं के लिए समय उत्तम रहेगा। दांपत्य जीवन में मधुर वातावरण बना रहेगा। स्त्री पक्ष के कार्य बनेंगे।
 
मकर- इस राशि से बुध का भ्रमण नवम भाव से होने से पिछली परेशानियों से राहत महसूस करेंगे। कष्टों में कमी आएगी लेकिन आर्थिक रूप से परेशान रहेंगे। पर्सनल जीवन में तालमेल बनाकर चलना होगा। शत्रु वर्ग पर प्रभाव रहेगा। भाग्य साथ देगा।
 
 
कुंभ- इस राशि वाले जातक के लिए बुध का गोचरीय भ्रमण अष्टम भाव से होने से जो भी कार्य करें, सोच-समझ कर करें। किसी के कहने में न आएं। हालांकि अधिक परेशानी नहीं रहेगी फिर भी आर्थिक मामलों में सावधान रहें। संतान के मामलों में सतर्कता बरतनी होगी। 
 
मीन- इस राशि वालों के लिए बुध का गोचरीय भ्रमण सप्तम भाव से होने से स्वास्थ्य का ध्यान रखना होगा। कोई निर्णय सोच-विचार कर करें। जीवनसाथी की सलाह उपयोगी साबित होगी। दैनिक व्यवसाय में लाभजनक स्थिति रहेगी। 
 
उपाय :- जिनकी राशि में बुध अशुभ प्रभाव दे रहा हो, वे गाय को हरा चारा खिलाएं, कन्याओं को भोजन करवाएं, पत्रिका दिखाकर पन्ना पहनें।
देखें वीडियो 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :