मौत के समान कष्ट देता है 'यमघंटक योग', ज्योतिष का सबसे ज्यादा घातक, अशुभ और दुष्ट योग

* ज्योतिष का सबसे अधिक घातक, अशुभ और दुष्ट योग है 'यमघंटक', नहीं करें इसमें मंगल कार्य

ज्योतिष के सबसे अशुभ योगों में योग भी है। इस योग में शुभ कार्य वर्जित होते हैं अर्थात इस योग में व्यक्ति के किए गए शुभ कार्यों में असफलता की आशंका बढ़ जाती है। इस योग में शुभ एवं मांगलिक कामों को न करने की बात कही गई है।

ज्योतिष के अनुसार किसी भी कार्य को करने हेतु शुभ योग-संयोगों का होना आवश्यक होता है। शुभ समय का चयन तिथि, नक्षत्र, चंद्र स्थिति, योगिनी दशा और ग्रह स्थिति के आधार पर किया जाता है।
मंगल कार्यों को करने के लिए त्याज्य माने गए इन योगों का निर्धारण करने के कुछ नियम बताए हैं, जहां पर इनके होने की स्थिति को बताया गया है। अत: शुभ कामों को करने के लिए इन अशुभ योगों को त्यागना चाहिए।

यात्रा, बच्चों के लिए किए जाने वाले शुभ कार्य तथा संतान के जन्म समय में भी इस योग का विचार किया जाता है और यदि योग उपस्थित हो तो यथासंभव, कार्यों को टालना उचित है, संतान जन्म तो ईश्वरीय देन है परंतु यदि यमघटंक योग हो तो विद्वान ब्राह्मणों से इसकी शांति करवानी चाहिए।

वशिष्ठ ऋषि द्वारा फलित ज्योतिष शास्त्र में कहा गया है कि दिवसकाल में यदि यमघंटक नामक दुष्ट योग हो तो हो सकता है, परंतु साथ ही रात्रिकाल में इसका फल इतना अशुभ नहीं माना जाता है।


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

राशिफल

गुप्त नवरात्रि आरंभ, जानिए इस नवरात्रि में कैसे की जाती है ...

गुप्त नवरात्रि आरंभ, जानिए इस नवरात्रि में कैसे की जाती है देवी पूजा
आषाढ़ मास की 'गुप्त-नवरात्रि' प्रारंभ होने जा रही है। आइए, जानते हैं कि इस गुप्त नवरात्रि ...

क्या देवता भी होते हैं बीमार, जी हां जगन्नाथ यात्रा से ...

क्या देवता भी होते हैं बीमार, जी हां जगन्नाथ यात्रा से पूर्व हर वर्ष देवता को आता है बुखार
चौंकिए मत, हमारे देश में भगवान भी रुग्ण यानी बीमार होते हैं और उनकी भी चिकित्सा की जाती ...

Gupt Navratri 2018 : जानें महत्व, सरल पूजा विधि एवं ...

Gupt Navratri 2018 : जानें महत्व, सरल पूजा विधि एवं घटस्थापना मुहूर्त
नवरात्रि में देवी का पूजन आह्वान प्रात:काल ही श्रेष्ठ रहता है अत: अभिजीत मुहूर्त में ...

जीवन में खुशहाली चाहिए तो हलहारिणी अमावस्या पर आजमाएं ये 10 ...

जीवन में खुशहाली चाहिए तो हलहारिणी अमावस्या पर आजमाएं ये 10 सरल उपाय
आषाढ़ मास में पड़ने वाली अमावस्या को आषाढ़ी तथा हलहारिणी अमावस्या कहा जाता है। इस वर्ष यह ...

सावन के महीने में बढ़ेगा आपका सौभाग्य ऐसे करें भोलेनाथ का ...

सावन के महीने में बढ़ेगा आपका सौभाग्य ऐसे करें भोलेनाथ का अभिषेक, पढ़ें 10 प्रकार
श्रावण या सरल शब्दों में सावन मास भगवान शिव का अत्यंत प्रिय महीना है। वर्ष 2018 में 28 ...

ज्योतिष सच या झूठ, जानिए रहस्य

ज्योतिष सच या झूठ, जानिए रहस्य
गीता में लिखा गया है कि ये संसार उल्टा पेड़ है। इसकी जड़ें ऊपर और शाखाएं नीचे हैं। यदि कुछ ...

श्रावण मास में शिव अभिषेक से होती हैं कई बीमारियां दूर, ...

श्रावण मास में शिव अभिषेक से होती हैं कई बीमारियां दूर, जानिए ग्रह अनुसार क्या चढ़ाएं शिव को
श्रावण के शुभ समय में ग्रहों की शुभ-अशुभ स्थिति के अनुसार शिवलिंग का पूजन करना चाहिए। ...

क्या ग्रहण करें देवशयनी एकादशी के दिन, जानिए 6 जरूरी काम की ...

क्या ग्रहण करें देवशयनी एकादशी के दिन, जानिए 6 जरूरी काम की बातें...
हिन्दू धर्म में आषाढ़ मास की देवशयनी एकादशी का बहुत महत्व है। यह एकादशी मनुष्य को परलोक ...

16 जुलाई 2018 का राशिफल और उपाय...

16 जुलाई 2018 का राशिफल और उपाय...
धनलाभ होगा। पार्टी व पिकनिक का आनंद मिलेगा। विद्यार्थी वर्ग सफलता हासिल करेगा। प्रसन्नता ...

16 जुलाई 2018 : आपका जन्मदिन

16 जुलाई 2018 : आपका जन्मदिन
दिनांक 16 को जन्मे व्यक्ति का मूलांक 7 होगा। इस अंक से प्रभावित व्यक्ति अपने आप में कई ...