अवसरवादी है सपा-कांग्रेस गठबंधन, हारी हुई लड़ाई लड़ रही है बसपा : राजनाथ

लखनऊ| पुनः संशोधित शुक्रवार, 10 फ़रवरी 2017 (15:59 IST)
लखनऊ। केंद्रीय गृह मंत्री ने उत्तरप्रदेश विधानसभा चुनाव के लिए हुए सपा और के गठबंधन को हताशा में किया गया 'अवसरवादी' गठजोड़ करार देते हुए शुक्रवार को कहा कि बसपा इस बार हारी हुई लड़ाई लड़ रही है।
 
सिंह ने यहां संवाददाता सम्मेलन में दावा किया कि प्रदेश की जनता ने भाजपा को सशक्त विकल्प मान लिया है और प्रदेश विधानसभा चुनाव में उनकी पार्टी पूर्ण बहुमत की सरकार बनाएगी।
 
उन्होंने कहा कि सपा और कांग्रेस का गठबंधन 'अवसरवादी' गठजोड़ है। यह हताशा में किया गया गठबंधन है, क्योंकि ये दोनों ही पार्टियां कमजोर हैं। सपा ने स्वीकार कर लिया है कि वह कमजोर हो चुकी है इसीलिए उसने 'स्मृति लोप' से ग्रस्त उस कांग्रेस से गठबंधन कर लिया जिसकी सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव हमेशा मुखालफत करते रहे।
 
सिंह ने कहा कि जहां तक बसपा का सवाल है तो वह 'हारी हुई लड़ाई' लड़ रही है। उसकी हताशा का आलम यह है कि उसकी मुखिया मायावती चुनाव में सांप्रदायिक आधार पर वोट मांग रही हैं। वे विभाजन की राजनीति कर रही हैं। लोकतंत्र में जाति या मजहब के आधार पर वोट की अपील नहीं की जानी चाहिए। (भाषा)


और भी पढ़ें :