शेयर बाजार नए शिखर पर, सेंसेक्‍स ने लगाई छलांग, निफ्टी भी उछला

पुनः संशोधित सोमवार, 20 अगस्त 2018 (16:46 IST)
मुम्बई। विदेशी बाजारों से मिले मजबूत संकेतों के बीच एल एंड टी और टाटा मोटर्स जैसी दिग्गज कंपनियों के शेयरों में आए जबरदस्त उछाल से घरेलू शेयर बाजार सोमवार को नए शिखर पर पहुंच गया। अमेरिका और चीन के बीच टैरिफ को लेकर वार्ता होने की संभावना से मजबूत हुई निवेश धारणा की बदौलत का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स 330.87 अंक की छलांग लगाकर 38,278.75 अंक और एनएसई का निफ्टी 81 अंक की बढ़त के साथ 11,551.75 अंक के नए शिखर पर पहुंचा।

अमेरिका और चीन के बीच 21 और 22 अगस्त को टैरिफ को लेकर बातचीत होने की खबरों से बाजार में शुरुआत से उत्साह बना रहा। इसके अलावा विदेशी पोर्टफोलियो निवेशकों की वापसी और एलएंडटी द्वारा शेयर पुन:खरीद की घोषणा के बल पर सेंसेक्स की शुरुआत मजबूत रही और यह 38,000 अंक के पार 38,075.07 अंक पर खुला।

कारोबार के दौरान 38,340.69 अंक के दिवस के उच्चतम और 38,050.69 अंक के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.87 प्रतिशत की बढ़त के साथ 38,278.75 अंक पर बंद हुआ। सेंसेक्स की 30 में से 22 कंपनियां हरे निशान में रहीं। निफ्टी की शुरुआत भी मजबूत रही और यह 11,500 अंकों के पार 11,502.10 अंक पर खुला।

कारोबार के दौरान 11,565.30 अंक के दिवस के उच्चतम और 11,499.65 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस की तुलना में 0.71 प्रतिशत की तेजी के साथ 11,551.75 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 32 कंपनियां तेजी में और शेष 18 गिरावट में रहीं। दिग्गज कंपनियों और छोटी कंपनियों की अपेक्षा मझोली कंपनियों ने निवेशकों को अधिक आकर्षित किया।

बीएसई का मिडकैप 1.05 प्रतिशत यानी 170.41 अंक की छलांग लगाकर 16,476.85 अंक पर और स्मॉलकैप 0.14 प्रतिशत यानी 23.90 अंक की बढ़त के साथ 16,890.11 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,948 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें 1,474 में तेजी और 1,269 में गिरावट रही जबकि 205 कंपनियों के शेयरों के भाव अपरिवर्तित रहे। विदेशी बाजारों में तेजी का रुख रहा।

ब्रिटेन का एफटीएसई 0.58 और जर्मनी का डैक्स 1.09 प्रतिशत की तेजी में रहा। एशियाई बाजार में जापान के निक्की में 0.32 प्रतिशत की गिरावट दर्ज की गई, जबकि हांगकांग का हैंगशैंग 1.41, चीन का शंघाई कंपोजिट 1.11 और दक्षिण कोरिया का कोस्पी 0.04 प्रतिशत की तेजी में बंद हुआ। बीएसई के 20 समूहों में से मात्र तीन समूहों के सूचकांक में गिरावट रही।

आईटी में सर्वाधिक 1.25, टेक में 1.00 और सीडी में 0.58 प्रतिशत की गिरावट रही। इसके अलावा बेसिक मैटेरियल्स में 1.10, सीडीजीएस में 0.36, ऊर्जा में 2.15, एफएमसीजी में 0.19, वित्त में 0.66, स्वास्थ्य में 0.79, इंडस्ट्रियल्स में 2.60, दूरसंचार में 0.46, यूटिलिटीज में 0.33, ऑटो में 1.00, बैंकिंग में 0.32, पूंजीगत वस्तु में 3.74, धातु में 2.58, तेल एवं गैस में 1.30, बिजली में 0.68, रिएल्टी में 0.76 और पीएसयू में 0.90 प्रतिशत की तेजी रही।

सेंसेक्स की 30 कंपनियों में एलएंडटी के शेयरों में सर्वाधिक 6.74 प्रतिशत की तेजी रही। इसके साथ ही टाटा मोटर्स शेयरों की कीमत में 4.74, ओएनजीसी में 3.34, टाटा स्टील में 3.24, वेदांता लिमिटेड में 3.16, बजाज ऑटो में 2.75, रिलायंस में 2.61, एचडीएफसी में 1.94, भारतीय स्टेट बैंक में 1.84, हीरो मोटोकॉर्प्स में 1.74, विप्रो में 1.68, कोल इंडिया में 1.07, एचडीएफसी बैंक में 0.96, अदानी पोटर्स में 0.96, महिंद्रा एंड महिंद्रा में 0.77, कोटक बैंक में 0.71, एशियन पेंट्स में 0.65, एनटीपीसी में 0.35, यस बैंक में 0.23, सनफार्मा में 0.22, भारती एयरटेल में 0.19 और पावर ग्रिड में 0.13 प्रतिशत की तेजी रही।

आईटी कंपनी इंफोसिस के मुख्य वित्तीय अधिकारी का त्याग पत्र स्वीकार किए जाने की खबर से कंपनी के शेयरों में सबसे अधिक 3.22 प्रतिशत की गिरावट रही। इसके अलावा मारुति के शेयरों के भाव 0.79, आईसीआईसीआई बैंक के 0.50, एक्सिस बैंक के 0.46, हिंदुस्तान यूनीलीवर के 0.30, आईटीसी के 0.21, इंडसइंड बैंक के 0.08 और टीसीएस के 0.07 प्रतिशत लुढ़क गए। (वार्ता)


और भी पढ़ें :