फिच की टिप्पणी से शेयर बाजार में भारी गिरावट

मुंबई| Last Updated: शुक्रवार, 2 फ़रवरी 2018 (15:58 IST)
मुंबई। क्रेडिट रेटिंग एजेंसी की टिप्पणी तथा राजकोषीय घाटा बढ़ने की चिंताओं के कारण शुक्रवार को में भारी गिरावट देखी गई। सेंसेक्स और निफ्टी दोनों में ही भारी गिरावट दर्ज की गई।

बंबई शेयर बाजार का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक सेंसेक्स शुरुआती कारोबार में 528.76 अंक यानी 1.47 प्रतिशत गिरकर 35,377.90 अंक पर आ गया। नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी भी 164.45 अंक यानी 1.49 प्रतिशत लुढ़ककर 10,852.45 अंक पर रहा।
दिन का कारोबार समाप्त होने तक सेंसेक्स 2.34 प्रतिशत गिरकर 35067 पर था। निफ्टी में भी 2.33 प्रतिशत की गिरावट देखी गई।
वह 256 अंक गिर गया।

सेंसेक्स की कंपनियों में यस बैंक, कोटक बैंक, इंडसइंड बैंक, एक्सिस बैंक, आईसीआईसीआई बैंक और एचडीएफसी बैंक 3.22 प्रतिशत तक गिर गए। सरकार ने बजट में शेयर बाजार की एक लाख से अधिक की दीर्घावधि पूंजीगत आय पर 10 प्रतिशत कर लगाने की घोषणा की जिससे बाजार की धारणा पर नकारात्मक असर पड़ा है। एशियाई बाजारों के नरम रुख ने भी बाजार को प्रभावित किया है।
उल्लेखनीय है कि क्रेडिट रेटिंग एजेंसी फिच रेटिंग ने शुक्रवार को कहा कि सरकार पर कर्ज के भारी दबाव के कारण भारत की रेटिंग में सुधार रुक गया है। फिच का यह बयान ऐसे समय आया है जब एक ही दिन पहले पेश बजट में वित्त मंत्री अरुण जेटली ने राजकोषीय घाटे का लक्ष्य सकल घरेलू उत्पाद (जीडीपी) के 3.2 प्रतिशत से बढ़ाकर 3.5 प्रतिशत किया है।


और भी पढ़ें :