फिसला शेयर बाजार, लाल निशान में गया

मुंबई| Last Updated: शुक्रवार, 12 मई 2017 (17:18 IST)
मुंबई। के साथ आईटीसी और जैसी दिग्गज कंपनियों में हुई बिकवाली से शुक्रवार को घरेलू शेयर बाजार रिकॉर्ड स्तर से फिसलकर लाल निशान में बंद हुआ।
Widgets Magazine

गुरुवार को 30250.98 अंक के सर्वकालिक रिकॉर्ड स्तर पर बंद होने वाला बीएसई का 34.63 अंक की तेजी में 30,285.61 अंक पर खुला। खुलते ही 30,299.74 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूने के बाद यह लाल निशान में चला गया। बैंकिंग और कंपनियों पर सबसे ज्यादा दबाव देखा गया।
आईटी और कंपनियों में हुई लिवाली ने बाजार को संभालने की कोशिश की, लेकिन अधिकतर एशियाई बाजारों के भी गिरावट में रहने के कारण घरेलू स्तर पर निवेश धारणा और कमजोर हुई जिससे सेंसेक्स कभी हरे निशान में वापस नहीं आ सका। अंतिम घंटे के कारोबार में 30,111.45 अंक के दिवस के निचले स्तर तक उतरने के बाद यह गत दिवस की तुलना में 0.21 प्रतिशत यानी 62.83 अंक की गिरावट के साथ 30,188.15 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की 30 में से 16 कंपनियां गिरावट में और शेष 14 हरे निशान में रहीं। सबसे ज्यादा 3 फीसदी से ज्यादा की गिरावट एशियन पेंट्स में देखी गई। एक्सिस बैंक के शेयर भी करीब 3 प्रतिशत फिसले। इंफोसिस और हीरो मोटोकॉर्प ने 2 प्रतिशत से ज्यादा का मुनाफा कमाया।

निफ्टी का ग्राफ भी सेंसेक्स जैसा ही रहा। यह 14.25 अंक की बढ़त में 9,436.65 अंक पर खुला और खुलते ही 9,437.75 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर को छूने के बाद लाल निशान में चला गया। कारोबार के दौरान 9,372.55 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ यह गत दिवस के मुकाबले 0.23 प्रतिशत यानी 21.50 अंक उतरकर 9,400.90 अंक पर रहा।
निफ्टी की 51 में से 31 कंपनियों के शेयर टूट गए जबकि 19 के बढ़त में रहे।
मझौली तथा छोटी कंपनियों पर दबाव ज्यादा रहा। बीएसई का मिडकैप 0.69 प्रतिशत लुढ़ककर 14,854.45 अंक पर और स्मॉलकैप 0.80 प्रतिशत की गिरावट में 15,528.83 अंक पर बंद हुआ।

बीएसई में कुल 2,959 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,774 के शेयर टूट गए जबकि 1,005 के बढ़त में रहे। शेष 180 कंपनियों के शेयर दिनभर के उतार-चढ़ाव के बाद अंतत: अपरिवर्तित बंद हुए। (वार्ता)

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।


Widgets Magazine

और भी पढ़ें :