लगातार दूसरे दिन टूटा सेंसेक्स

Last Updated: शुक्रवार, 29 दिसंबर 2017 (01:10 IST)
मुंबई। दिग्गज और बड़ी कंपनियों में आखिरी समय में हुई मुनाफावसूली के दबाव में घरेलू गुरुवार को लगातार दूसरे दिन लाल निशान में बंद हुए। बीएसई का सेंसेक्स 63.78 अंक लुढ़ककर 33,848.03 अंक पर और नेशनल स्टॉक एक्सचेंज का निफ्टी 12.85 अंक की गिरावट में 10,477.90 अंक पर रहा।

एशियाई बाजारों से मिले सकारात्मक संकेत के बीच सेंसेक्स 17.05 अंक की बढ़त में 33,928.86 अंक पर खुला। एक घंटे के अंदर ही यह लाल निशान में उतर गया। इसके बाद लगभग पूरे दिन सूचकांक बेहद सीमित दायरे में कभी बढ़त तो कभी गिरावट में हिचकोले खाता रहा। अपराह्न दो बजे के करीब अचानक बाजार ने उड़ान भरी और 34,023.65 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंच गया। इसके बाद मुनाफा वसूली के दबाव में इसका ग्राफ सरपट नीचे की ओर लुढ़का। सेंसेक्स 33,752.03 अंक के दिवस के निचले स्तर से होता हुआ अंतत: गत दिवस के मुकाबले 0.19 प्रतिशत यानी 63.78 अंक नीचे 33,848.03 अंक पर बंद हुआ।

सेंसेक्स की कंपनियों में भारतीय स्टेट बैंक ने सर्वाधिक करीब दो प्रतिशत का नुकसान उठाया। हीरो मोटोकॉर्प
और सनफार्मा के शेयर तकरीबन पौने दो फीसदी टूटे। टाटा स्टील ने सर्वाधिक लगभग पौने दो फीसदी का मुनाफा कमाया। बीएसई के समूहों में तेल एवं गैस क्षेत्र पर सबसे ज्यादा दबाव रहा। रियलिटी और धातु क्षेत्र में सबसे ज्यादा तेजी देखी गई।

निफ्टी भी 7.45 अंक की बढ़त में 10,498.20 अंक पर खुला। इसका ग्राफ सेंसेक्स से थोड़ा अलग रहा। यह लगभग पूरे दिन हरे निशान में रहा, लेकिन कारोबार की समाप्ति से ठीक पहले यहां भी बिकवाली शुरू हो गई तथा सूचकांक बुधवार की तुलना में 0.12 प्रतिशत यानी 12.85 अंक लुढ़ककर 10,477.90 अंक पर बंद हुआ। दिवस के दौरान इसका उच्चतम स्तर 10,534.55 अंक और निचला स्तर 10,460.45 अंक दर्ज किया गया। निफ्टी की 50 में से 32 कंपनियां लाल और शेष 18 हरे निशान में रहीं।

बड़ी कंपनियों के विपरीत मझौली और छोटी कंपनियों में निवेशकों ने विश्वास दिखाया। बीएसई का मिडकैप 0.10 प्रतिशत चढ़कर 17,691.93 अंक पर और स्मॉलकैप 0.32 प्रतिशत की बढ़त के साथ 19,109.23 अंक पर रहा। बीएसई में कुल 2,956 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ। इनमें 1,461 के शेयरों में लिवाली और 1,309 में बिकवाली का जोर रहा, जबकि 196 कंपनियों के शेयर अपरिवर्तित बंद हुए। (वार्ता)


और भी पढ़ें :