बिकवाली के दबाव में सेंसेक्स फिसला, निफ्टी भी गिरा

share market
पुनः संशोधित शुक्रवार, 28 सितम्बर 2018 (17:08 IST)
मुंबई। विदेशी बाजारों से मिले मिश्रित संकेतों के बीच धातु, रिएल्टी और दूरसंचार के क्षेत्र में हुई भारी बिकवाली के दबाव में बीएसई का 30 शेयरों वाला संवेदी सूचकांक शुक्रवार को 97.03 अंक लुढ़ककर करीब 12 सप्ताह के निचले स्तर 36,227.14 अंक पर और एनएसई का निफ्टी 47.10 अंक फिसलकर 10,930.45 अंक पर बंद हुआ।

शेयर बाजार में आज पूरे दिन उठापटक होती रही। शुरुआती तेजी के साथ 36,452.74 अंक पर खुला सेंसेक्स पहले पहर में 36,551.86 अंक के दिवस के उच्चतम स्तर तक पहुंचा, लेकिन उत्तरार्द्ध में यस बैंक, हीरो मोटोकॉर्प और भारती एयरटेल जैसी दिग्गज कंपनियों के दबाव में कारोबारी धारणा नकारात्मक होती गई और सेंसेक्स 36 हजार के मनोवैज्ञानिक स्तर से लुढ़कता हुआ 35,985.63 अंक के दिवस के निचले स्तर तक उतर गया।

अंतत: यह लगातार तीसरे दिन की गिरावट में गत दिवस की अपेक्षा 0.27 फीसदी कमजोर होकर 36,227.14 अंक पर बंद हुआ। यह 9 जुलाई के बाद का इसका निचला स्तर है। सेंसेक्स की 30 में से मात्र 10 कंपनियां हरे निशान में रहीं।

निफ्टी का ग्राफ भी सेंसेक्स
की तरह रहा और यह बढ़त के साथ 11,008.10 अंक पर खुला। कारोबार के दौरान 11,034.10 अंक के दिवस के उच्चतम और 10,850.30 अंक के निचले स्तर से होता हुआ गत दिवस की तुलना में 0.43 प्रतिशत लुढ़ककर 10,930.45 अंक पर बंद हुआ। निफ्टी की 50 में से 32 कंपनियां गिरावट में और 17 तेजी में रहीं जबकि एक एनटीपीसी के शेयर दिनभर के उतार-चढाव के बाद अपरिवर्तित रहे।

दिग्गज कंपनियों की अपेक्षा छोटी और मझोली कंपनियों में अधिक बिकवाली हुई। बीएसई का मिडकैप 241.97 अंक यानी 1.61 प्रतिशत की गिरावट 14,763.20 अंक पर और स्मॉलकैप 509.07 अंक यानी 3.41 प्रतिशत की गिरावट में 14,939.75 अंक पर बंद हुआ। बीएसई में कुल 2,801 कंपनियों के शेयरों में कारोबार हुआ, जिनमें 2,128 में गिरावट और 527 में तेजी रही जबकि 146 कंपनियों के शेयर अपरिवर्तित रहे। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :