फीफा विश्व कप : 22 साल बाद इतिहास बनाने उतरेगा ईरान

पुनः संशोधित शनिवार, 21 अक्टूबर 2017 (18:38 IST)
कोच्चि। एशियाई शक्ति ईरान फीफा अंडर 17 विश्व कप फुटबॉल टूर्नामेंट के रविवार को स्पेन के खिलाफ होने वाले क्वार्टर फाइनल में 22 साल बाद इतिहास रचने के मजबूत इरादे से उतरेगा।





विश्व कप के क्वार्टर फाइनल में पहुंची आठ टीमों में ईरान ही एकमात्र एशियाई टीम है और टूर्नामेंट में उसने अब तक वाकई शानदार प्रदर्शन किया है। ईरान के पास टूर्नामेंट में 22 साल बाद सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली एशियाई टीम बनने का शानदार मौका है।



विश्व कप में अब तक सिर्फ चार एशियाई टीमें ही सेमीफाइनल तक पहुंची हैं। सऊदी अरब और बहरीन ने 1989 के विश्व कप में, क़तर ने 1991 के विश्व कप में और ओमान ने 1995 के विश्व कप के सेमीफाइनल में जगह बनाई थी। ईरान के पास इस बार इतिहाए दोहराने का मौका है।





ईरान ने ग्रुप चरण में गुएना को 3-1 से, मजबूत जर्मनी को 4-0 से और कोस्टा रिका को 3-0 से हराया था। राउंड 16 में ईरान ने पूर्व चैंपियन मेक्सिको को 2-1 से पस्त कर दिया और अब उसके सामने क्वार्टर फाइनल में स्पेन की चुनौती होगी जिसने टूर्नामेंट में उतार-चढ़ाव वाला प्रदर्शन किया है।



अपने पहले मैच में ब्राजील से 1-2 से मात खाने के बाद स्पेन ने नाइजर को 4-0 से और उत्तर कोरिया को 2-0 से हराकर राउंड 16 में जगह बनाई जहां उसने फ्रांस की अपराजेय टीम को 2-1 से हरा दिया। ईरान को स्पेन की वापसी से सतर्क रहना होगा। (वार्ता)


वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :