आईएसएल इतिहास में सबसे अच्छा है गोवा का अटैक

पुनः संशोधित गुरुवार, 8 मार्च 2018 (18:35 IST)
पणजी। हीरो इंडियन सुपर लीग (आईएसएल) के इतिहास में इलानो ब्लूमर और स्टीवेन मेंडोजा की चेन्नइयन एफसी, पिछले सीजन में मार्सेलिन्हो के नेतृत्व वाली दिल्ली डायनामोज, व्हाइट पेले के नाम से मशहूर जिको की एफसी गोवा कुछ शानदार टीमें रही हैं। लेकिन इस सीजन सर्जियो लोबेरा की गोवा ने इन सभी टीमों को पीछे छोड़ दिया है। इस टीम ने प्रति मैच 2.33 की औसत से गोल किए हैं।

एफसी गोवा ने अपने शुरुआती 9 मैचों में 22 गोल किए थे, इसके बाद उसे बुरे दौर का सामना करना पड़ा लेकिन इस टीम ने खुद को बेहतरीन तरीके से संभालते हुए वापसी की और आखिरी के 3 मैचों में 12 गोल किए वहीं सिर्फ 1 गोल खाया।

अगर देखा जाए तो पिछले सीजन सबसे ज्यादा गोल करने वाली दिल्ली ने 14 मैचों में 27 गोल किए थे। इससे सबसे ज्यादा खुशी ला मासिया के पूर्व कोच लोबेरा को होगी। उन्होंने कहा कि इस तरह की स्कोरिंग से मैं बेहद खुश हूं, क्योंकि यह बताती है कि हम किस तरह की फुटबॉल का प्रदर्शन करना चाहते हैं। जब मैं पहली बार यहां आया तो मैंने कहा था कि मैं आक्रामक फुटबॉल खेलना चाहता हूं।

उन्होंने कहा कि मेरा मानना है कि ऐसा ही हुआ है और हम उन टीमों में शामिल हैं, जो गोल कर सकती हैं। हालांकि इसमें एक शक है कि गोवा का यह फॉर्म फेरान कोरोमिनास और मैनुएल लैंजारोते के दम पर है। दोनों ने मिलकर 30 गोल किए हैं, लेकिन क्लब इन दोनों से काफी ऊपर है।

लोबेरा ने कहा कि मुझे नहीं लगता कि सिर्फ 2 खिलाड़ी लीग में किसी टीम का भाग्य बना सकते हैं। ऐसे खिलाड़ी हमेशा मौजूद रहते हैं जिनका नाम स्कोर शीट पर रहता है और यह अच्छी बात है कि वे ऐसा कर पाने में सक्षम हैं, लेकिन परिणाम हमेशा संयुक्त प्रयास से आते हैं।

लोबेरा ने सीजन की शुरुआत में ही कह दिया था कि वे बार्सिलोना की मानसिकता के साथ फुटबॉल खेलना पसंद करेंगे। यह वह क्लब है जिसने उनके अंदर आक्रामक फुटबॉल खेलने का बीज बोया, लेकिन यह सिर्फ आक्रामक खेलने की बात नहीं है, इसके साथ ही मिडफील्ड पर नियंत्रण रखना बेहद जरूरी है। गोवा ने हर मैच में औसतन सबसे ज्यादा पास दिए हैं, एक मैच में सबसे ज्यादा शॉट गोल पर दागे हैं, साथ ही उसके नाम एक मैच में सबसे ज्यादा टच भी हैं।

लोबेरा ने कहा कि हम चाहते हैं कि दर्शक रोचक और आक्रामक फुटबॉल देखें। हम चाहते हैं कि वे भावुक तौर पर तैयार रहें और इस खूबसूरत खेल का लुत्फ उठाएं। जब रैफरी सीटी बजाए तो हम इस बात से खुश होना नहीं चाहते कि हमने अंक बचा लिए बल्कि हमें इस बात से खुशी मिलेगी कि प्रशंसकों को अच्छी फुटबॉल देखने को मिले।

लोबेरा ने कहा कि मेरा मानना है फुटबॉल का अच्छा मैच सभी के लिए अच्छा होता है। मुझे भरोसा है कि 90 मिनट तक फुटबॉल देखने के बाद प्रशंसक खुश होकर घर जाएंगे। इस आक्रामक फुटबॉल का मतलब है कि इसमें गोल खाने का जोखिम भी होगा। इसका एक और पहलू भी है।

लोबेरा की टीम ने अभी तक 28 गोल खाए हैं। यह लीग की शीर्ष 6 टीमों में किसी भी टीम द्वारा खाए जाने वाले सबसे ज्यादा गोल हैं। स्पेन का यह दिग्गज क्लीनशीट की अहमियत को समझते हैं लेकिन उनकी टीम अगर अपनी विपक्षी टीम से ज्यादा गोल करती है तो वे खुश होंगे। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

ब्राजील जिसकी धड़कनों में बसता है फुटबॉल, सांबा, साल्सा

ब्राजील जिसकी धड़कनों में बसता है फुटबॉल, सांबा, साल्सा
ब्राजील दक्षिण अमेरिका का सबसे बड़ा देश है, जिसकी धड़कनों में बसता है, फुटबॉल, सांबा, ...

सर्वेक्षण में जर्मनी फिर बनेगा विश्व चैंपियन, मैसी को ...

सर्वेक्षण में जर्मनी फिर बनेगा विश्व चैंपियन, मैसी को 'गोल्डन बूट'
जोहानसबर्ग। विश्व की नंबर 1 फुटबॉल टीम और गत चैंपियन जर्मनी, रूस में होने वाले फीफा विश्व ...

माली का बेटा बना दुनिया का सबसे मालामाल फुटबॉलर, मासिक वेतन ...

माली का बेटा बना दुनिया का सबसे मालामाल फुटबॉलर, मासिक वेतन 13 करोड़ 67 लाख रुपए
क्रिस्टियानो रोनाल्डो बेशक आज दुनिया के बेहतरीन खिलाड़ियों में शुमार किए जाते हों और रूस ...

38 सालों से देवी का श्राप भोग रही है अर्जेन्टीना की टीम

38 सालों से देवी का श्राप भोग रही है अर्जेन्टीना की टीम
रूस में 14 जून से शूरू होने जा रहे 21वें फीफा विश्व कप फुटबॉल में अर्जेन्टीना की टीम बतौर ...

इन खिलाड़ियों पर टिकी हैं सबकी नज़रें, कौन हो सकता है ...

इन खिलाड़ियों पर टिकी हैं सबकी नज़रें, कौन हो सकता है गोल्डन बूट का दावेदार
दुनिया के सबसे लोकप्रिय खेल फुटबॉल के महाकुंभ को शुरू होने में कुछ ही समय शेष बचा है। ...

FIFA WC 2018 : जीत से विदाई लेने की कोशिश करेंगे सऊदी अरब ...

FIFA WC 2018 : जीत से विदाई लेने की कोशिश करेंगे सऊदी अरब और मिस्र
वोल्गोग्राद। नॉकआउट की दौड़ से पहले ही बाहर हो चुके मिस्र और सऊदी अरब जीत के साथ अपने ...

FIFA WC 2018 : शीर्ष पर पहुंचने के लिए एक-दूसरे से भिड़ेंगे ...

FIFA WC 2018 : शीर्ष पर पहुंचने के लिए एक-दूसरे से भिड़ेंगे रूस और उरुग्वे
समारा (रूस)। अपने शुरुआती मैच जीतकर पहले ही नॉकआउट में जगह पक्की कर चुकी रूस और उरुग्वे ...

FIFA WC 2018 : ईरान के खिलाफ पुर्तगाल को नॉकआउट में ...

FIFA WC 2018 : ईरान के खिलाफ पुर्तगाल को नॉकआउट में पहुंचाने उतरेंगे रोनाल्डो
सरान्सक (रूस)। अपने बेहतरीन प्रदर्शन से पिछले दोनों मैचों में गोल करके पुर्तगाल की ...

FIFA WC 2018 : बारिश के बावजूद सड़कों पर जश्न मनाने उतरे ...

FIFA WC 2018 : बारिश के बावजूद सड़कों पर जश्न मनाने उतरे जर्मन प्रशंसक
बर्लिन। मौजूदा चैंपियन जर्मनी की विश्व कप में स्वीडन पर 2-1 की जीत के बाद उसके प्रशंसक ...

FIFA WC 2018 : जर्मन के जश्न मनाने के तरीके से स्वीडिश

FIFA WC 2018 : जर्मन के जश्न मनाने के तरीके से स्वीडिश नाराज
सोची। हार से निराश स्वीडन के कोच फ्यूमिंग एंडरसन ने जर्मनी के आखिरी क्षणों के गोल के बाद ...

छत्तीसगढ़ में मजबूत ताकत है कांग्रेस, गठबंधन की जरूरत नहीं ...

छत्तीसगढ़ में मजबूत ताकत है कांग्रेस, गठबंधन की जरूरत नहीं है : पुनिया
नई दिल्ली। अखिल भारतीय कांग्रेस समिति के महासचिव और छत्तीसगढ़ में पार्टी मामलों के ...

नेहरू से मोदी तक किसी ने भी नेताजी के अवशेष को लाने की ...

नेहरू से मोदी तक किसी ने भी नेताजी के अवशेष को लाने की कोशिश नहीं की: आशीष रे
कोलकाता। स्वतंत्रता सेनानी सुभाषचन्द्र बोस के पोते आशीष रे ने कहा कि जवाहरलाल नेहरू के ...

मंत्री ने कराई मेंढक-मेंढकी की शादी, बुंदेलखंड में अच्छी ...

मंत्री ने कराई मेंढक-मेंढकी की शादी, बुंदेलखंड में अच्छी बारिश की कामना (वीडियो)
छतरपुर। छतरपुर के मां फूलादेवी मंदिर में बुंदेलखंड में अच्छी बारिश की कामना को लेकर आषाढ़ ...

जहां-जहां पांव पड़े रघुवीर के, वहां-वहां उप्र सरकार बनाएगी ...

जहां-जहां पांव पड़े रघुवीर के, वहां-वहां उप्र सरकार बनाएगी रामायण सर्किट
लखनऊ। लोकसभा चुनाव में अब ज्यादा समय नहीं है और उत्तरप्रदेश सरकार रामायण सर्किट के ...

पखवाड़े भर में राहुल और मोदी के अहम दौरों से मप्र में चढ़ा ...

पखवाड़े भर में राहुल और मोदी के अहम दौरों से मप्र में चढ़ा चुनावी पारा
इंदौर। मंदसौर में 6 जून को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी की किसान रैली के कोई पखवाड़े भर ...