एलेना ओस्टापेंको और एंजलिक कर्बर सेमीफाइनल में, नडाल से भिड़ेंगे डेल पोत्रो

लंदन| पुनः संशोधित मंगलवार, 10 जुलाई 2018 (21:05 IST)
लंदन। एलेना ओस्टापेंको यहां विंबलडन के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली लाटविया की पहली खिलाड़ी बनीं, जहां उनका मुकाबला जर्मनी की अनुभवी से होगा। इस बीच पुरुष वर्ग में जुआन मार्टिन डेल पोत्रो ने भी जाइल्स सिमोन के खिलाफ दो दिन तक चला मुकाबला जीतकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया।
उनका सामना अब राफेल नडाल से होगा। चार साल पहले जूनियर विंबलडन का खिताब जीतने वाली ओस्टापेंको ने स्लोवाकिया की डोमिनिका सिबुलकोवा को सीधे सेटों में 7-5, 6-4 से हराया।

पूर्व फ्रेंच ओपन चैंपियन ओस्टापेंको ने अपने पहले पांच मैचों में सेट नहीं गंवाया था। उन्हें हालांकि विश्व में 33वें नंबर की सिबुलकोवा के खिलाफ शुरू में जूझना पड़ा, लेकिन जल्द ही उन्होंने लय हासिल कर ली।

कर्बर ने एक अन्य क्वार्टर फाइनल में रूस की 14वीं वरीय डारिया कास्टाकिना को 6-3, 7-5 से पराजित किया। वे तीसरी बार विंबलडन के सेमीफाइनल में पहुंची हैं। सेरेना विलियम्स से 2016 के फाइनल में हारने वाली 11वीं वरीयता प्राप्त कर्बर के पास चोटी की दस खिलाड़ियों के क्वार्टर फाइनल से पहले बाहर होने के कारण पहली बार खिताब जीतने का मौका है।
उनकी राह में हालांकि फिर से सेरेना बाधा बन सकती हैं जिन्हें अपना क्वार्टर फाइनल मैच खेलना है।

उधर पुरुष वर्ग में डेल पोत्रो की जीत से क्वार्टर फाइनल की लाइनअप भी तय हो गई।
डेल पोत्रो ने फ्रांस के सिमोन को 7-6 (7/1), 7-6 (7/5), 5-7, 7-6 (7/5) से हराया। यह मैच सोमवार को अधिक रात होने के कारण नहीं खेला जा सका था। तब अर्जेंटीनी खिलाड़ी 2-1 से आगे चल रहा था। डेल पोत्रो ने कोर्ट दो पर लगभग साढ़े चार घंटे बिताने के बाद पांचवें मैच प्वाइंट पर जीत दर्ज की।

अब उन्हें विश्व के नंबर एक नडाल का सामना करना है। इन दोनों के बीच खेले गए 15 मैचों में नडाल ने 10 और डेल पोत्रो ने 5 मैच जीते हैं। पुरुष वर्ग में क्वार्टर फाइनल के अन्य मैचों में शीर्ष वरीयता प्राप्त रोजर फेडरर का सामना दक्षिण अफ्रीका के आठवें वरीय केविन एंडरसन से, अमेरिका के नौवें वरीय जॉन इसनर का कनाडा के 13वें वरीय मिलोस राओनिच से तथा सर्बिया के 12वें वरीय नोवाक जोकोविच का जापान के 24वें वरीय केई निशिकोरी से मुकाबला होगा। (भाषा)


और भी पढ़ें :