द्रौपदी के अलावा पांच पांडवों की ये थीं सुंदर पत्नियां

पुनः संशोधित मंगलवार, 11 जुलाई 2017 (15:12 IST)
* भारत के इतिहास का एक खंड है।
* इस रहस्यमयी ग्रंथ में उलझे हुए रिश्तों की कहानियां है।
* जानिए द्रौपदी के पुत्र और पांडवों के अन्य पुत्र एवं पत्नियों के नाम।
* द्रौपदी ने पांच पांडवों से विवाह किया था।
* उन्होंने एक-एक वर्ष के अंतराल से पांचों पांडव के एक-एक पुत्र को जन्म दिया था।
* द्रौपदी से जन्मे युधिष्ठिर के पुत्र का नाम प्रतिविन्ध्य था।
* द्रौपदी से जन्मे भीमसेन से उत्पन्न पुत्र का नाम सुतसोम था।
* द्रौपदी से जन्मे अर्जुन के पुत्र का नाम श्रुतकर्मा था।
* द्रौपदी से जन्मे नकुल के पुत्र का नाम शतानीक था। और
* द्रौपदी से जन्मे सहदेव के पुत्र का नाम श्रुतसेन था।
''पांच पांडवों की अन्य पत्नियां''

1. युधिष्ठिर :
युधिष्ठिर की दूसरी पत्नी देविका थी। देविका से धौधेय नाम का पुत्र जन्मा।
2. अर्जुन :
द्रौपदी के अलावा अर्जुन की सुभद्रा, उलूपी और चित्रांगदा नामक तीन और पत्नियां थीं।
सुभद्रा से अभिमन्यु, उलूपी से इरावत, चित्रांगदा से वभ्रुवाहन नामक पुत्रों का जन्म हुआ।
3. भीम :
द्रौपदी के अलावा भीम की हिडिम्‍बा और बलन्धरा नामक दो और पत्नियां थीं।
हिडिम्‍बा से घटोत्कच और बलन्धरा से सर्वंग का जन्म हुआ।
4. नकुल :
द्रौपदी के अलावा नकुल की करेणुमती नामक पत्नी थीं।
करेणुमती से निरमित्र नामक पुत्र का जन्म हुआ।
5. सहदेव :
सहदेव की दूसरी पत्नी का नाम विजया था जिससे इनका सुहोत्र नामक पुत्र मिला।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :