सावधान! आरंभ हो गया है पंचक का, जाने क्या नहीं करना चाहिए...



रामानुज
शास्त्रों में को अनिष्टकारी दोष माना गया है। हिंदु शास्त्रों में इन दिनों कुछ कार्यों को वर्जित किया गया है। इस बार पंचक 8 अगस्त, मंगलवार को
प्रातः 03 बजकर 33 मिनट पर चंद्रमा धनिष्ठा में प्रवेश करेगा, इसी के साथ पंचक प्रारंभ हो जाएंगे तथा रविवार दिनांक 13.08.17 तक पंचक दोष रहेगा।
क्या होता है पंचक : के अनुसार जब चंद्रमा 27 नक्षत्रों में से अंतिम पांच नक्षत्रों अर्थात धनिष्ठा, शतभिषा, पूर्वाभाद्रपद, उत्तराभाद्रपद, व रेवती में होता है तो उस अवधि को पंचक कहते है। इसके कारण विशेष मुहूर्त दोष बनता है जिसमे कुछ कार्य करना मना है।
शास्त्रों में केवल कुछ विशेष कार्यों को ही पंचक के दौरान न करने की सलाह दी गई है।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine



और भी पढ़ें :