योगी का बड़ा बदलाव, सुलखान यूपी के नए डीजीपी

Last Updated: शुक्रवार, 21 अप्रैल 2017 (20:46 IST)
लखनऊ। भारतीय पुलिस सेवा के वरिष्ठ अधिकारी सुलखान सिंह को नया बनाया गया है। सुलखान जावीद अहमद का स्थान लेंगे, जिन्हें पुलिस महानिदेशक (पीएसी) के पद पर नई तैनाती दी गई है।प्रदेश पुलिस में शीर्ष स्तर पर किए गए बड़े फेरबदल में 12 आईपीएस अफसरों का तबादला किया गया है।
सुलखान 1980 बैच के आईपीएस अधिकारी हैं और उनकी छवि तेजतर्रार अधिकारी के रूप में है।
इससे पहले वह पुलिस महानिदेशक (प्रशिक्षण) के पद पर तैनात थे। मूलत: बांदा के रहने वाले सुलखान ने आईआईटी रूड़की से सिविल इंजीनियरिंग की डिग्री हासिल की तथा उनके पास कानून की डिग्री भी है। सिंह को वरिष्ठता के आधार पर डीजी बनाया गया है।


इसके अलावा सरकार ने अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) दलजीत सिंह चौधरी को अपर पुलिस महानिदेशक (आर्थिक अपराध शाखा) के साथ-साथ लाजिस्टिक्स का अतिरिक्त प्रभार भी दिया है। वह आदित्य मिश्र का स्थान लेंगे, जिन्हें प्रदेश का नया अपर पुलिस महानिदेशक (कानून-व्यवस्था) बनाया गया है।
सूर्य कुमार को पुलिस महानिदेशक (अभियोजन) पद के अतिरिक्त प्रभार से मुक्त करते हुए भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड का अध्यक्ष बनाए रखा गया है। पुलिस महानिदेशक (अभिसूचना मुख्यालय) जवाहर लाल त्रिपाठी को पुलिस महानिदेशक (अभियोजन) बनाया गया है।
पुलिस महानिदेशक (होमगार्ड्‍स) आलोक प्रसाद को वर्तमान पद के साथ पुलिस महानिदेशक (प्रशिक्षण) का अतिरिक्त प्रभार सौंपा गया है। अपर पुलिस महानिदेशक (सुरक्षा) भवेश कुमार सिह को अपर पुलिस महानिदेशक (अभिसूचना) के पद पर भेजा गया है। अपर पुलिस महानिदेशक (एटीसी) सीतापुर विजय कुमार को अपर पुलिस महानिदेशक (सुरक्षा) के पद पर नई तैनाती दी गई है। प्रतीक्षारत पुलिस महानिरीक्षक आलोक सिंह को पुलिस महानिरीक्षक (पीएसी पश्चिमी जोन) बनाया गया है।
पुलिस महानिदेशक के सहायक पुलिस महानिरीक्षक संजय सिंघल को पुलिस महानिरीक्षक (पीएसी मध्य जोन) के पद पर नियुक्त किया गया है। नवनीत सिकेरा को पुलिस महानिरीक्षक (पीएसी मध्य जोन) लखनऊ के अतिरिक्त प्रभार से मुक्त करके पुलिस महानिरीक्षक (वूमेन पॉवर लाइन) लखनउ के पद पर बनाए रखा गया है।

उल्लेखनीय है कि उत्तर प्रदेश के मुख्‍यमंत्री योगी आदित्यनाथ लगातार पुलिस और प्रशासन में फेरबदल कर रहे हैं। लगातार अधिकारियों के तबादलों की सूची भी जा रही है।

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :