पश्चिम बंगाल में मतदान के दिन यहां हुई थी हिंसा, 568 मतदान केंद्रों पर पुनर्मतदान

कोलकाता| पुनः संशोधित बुधवार, 16 मई 2018 (10:21 IST)
कोलकाता। समूचे पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के दौरान राज्य निर्वाचन आयोग (एसईसी) को जिन 568 केन्द्रों पर हिंसा की शिकायतें मिली थीं, वहां बुधवार को कड़ी सुरक्षा व्यवस्था के बीच फिर से मतदान कराया जा रहा है।
राज्य निर्वाचन आयोग ने बताया कि जिन मतदान केन्द्रों पर पुनर्मतदान हो रहे हैं वे राज्य के सभी 20 जिलों में स्थित हैं। राज्य में सोमवार को पंचायत चुनाव हुए थे।

उन्होंने बताया कि राज्य सरकार और पुलिस को व्यापक सुरक्षा इंतजाम करने के लिये कहा गया है ताकि पुनर्मतदान मुक्त एवं निष्पक्ष तरीके से हो।

आयोग के अधिकारियों ने बताया, 'पुनर्मतदान सुबह सात बजे शुरू हुआ और यह शाम पांच बजे खत्म हो जायेगा। मतगणना गुरुवार (17 मई) को होगी।'

उन्होंने बताया कि हुगली में 10 मतदान केन्द्रों, पश्चिम मिदनापुर में 28 मतदान केन्द्रों, कूचबिहार में 52 मतदान केन्द्रों, मुर्शिदाबाद में 63 मतदान केन्द्रों, नादिया में 60 मतदान केन्द्रों, उत्तर 24 परगना में 59 मतदान केन्द्रों, मालदा में 55 मतदान केन्द्रों, उत्तर दिनाजपुर में 73 मतदान केन्द्रों और दक्षिण 24 परगना में 26 मतदान केन्द्रों पर पुनर्मतदान के आदेश दिए गए हैं।

पश्चिम बंगाल में पंचायत चुनाव के दौरान हुई हिंसा से नाराज कई उम्मीदवारों ने आयोग के अधिकारियों से मुलाकात कर पुनर्मतदान की मांग की थी। इस हिंसा में कम से कम 12 लोगों की मौत हो गई थी और 43 लोग घायल हो गए थे।

विपक्षी दलों ने तृणमूल के आतंक का राज उजागर होने का आरोप लगाया। हालांकि तृणमूल ने इन आरोपों को निराधार बताया। (भाषा)


और भी पढ़ें :