कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक महेन्द्र सिंह कालूखेड़ा का निधन

Last Updated: मंगलवार, 12 सितम्बर 2017 (01:24 IST)
Widgets Magazine
भोपाल। के से कांग्रेस के वरिष्ठ विधायक एवं प्रदेश के पूर्व मंत्री महेन्द्र सिंह कालूखेड़ा का लंबी बीमारी के बाद सोमवार को हो गया। वह 72 वर्ष के थे।
 
पारिवारिक सूत्रों के अनुसार कालूखेडा ने गुडगांव के एक निजी अस्पताल मेंदाता में अंतिम सांस ली। वह लंबे समय से हृदय रोग से पीड़ित थे और इस अस्पताल में करीब एक महीने से इलाज करवा रहे थे। कालूखेडा को वरिष्ठ कांग्रेस नेता ज्योतिरादित्य सिंधिया का बहुत करीबी माने जाता था।
 
उनकी दो बेटियां हैं। कुछ समय पहले उनकी पत्नी का भी निधन हो चुका हैं। मध्यप्रदेश विधानसभा में छह बार विधायक बने कालूखेड़ा इस बार मुंगावली विधानसभा सीट का प्रतिनिधित्व कर रहे थे। वह वर्ष 1984 में गुना लोकसभा सीट से सांसद भी बने थे।
 
वह पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजय सिंह के मंत्रिमंडल में कैबिनेट मंत्री रहे। पारिवारिक सूत्रों ने बताया कि उनका अंतिम संस्कार मंदसौर जिले ​स्थित उनके पैतृक गांव कालूखेड़ा में 13 सितंबर को किया जाएगा।
 
मध्यप्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान, लोकसभा में कांग्रेस के मुख्य सचेतक ज्योतिरादित्य सिंधिया एवं प्रदेश कांग्रेस अध्यक्ष अरुण यादव ने उनके निधन पर गहरा शोक व्यक्त किया है और इसे अपूरणीय क्षति बताया है।
Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।