राजकोट में राष्ट्रकथा शिविर में भीषण आग, 3 की मौत

राजकोट। गुजरात के राजकोट जिले में भायावदर थाना के प्रांसला के निकट राष्ट्रभक्ति का संदेश देने के लिए आयोजित राष्ट्रकथा शिविर में शुक्रवार देर रात आग लगने से 3 छात्राओं की मौत हो गई तथा कम से कम 13 अन्य गंभीर रूप से घायल हो गईं।
 
पुलिस अधिकारी राना भोजाणी ने बताया कि लगभग 1 सप्ताह पहले शुरू हुए स्वामी धर्मबंधु महाराज के इस शिविर का शनिवार को अंतिम दिन था। इसमें लगभग 12,000 लोग भाग ले रहे थे। शुक्रवार को रात 11.30 बजे के आसपास अचानक शॉर्ट सर्किट से  छात्राओं के टेंट में आग लग गई जिसने अन्य टेंट को भी चपेट में ले लिया और कुल 47 टेंट जलकर खाक हो गए।
 
इस घटना में मोरबी निवासी कृपाली दवे, सायला निवासी वनिता जमोड और जसदन की किंजल की मौत हो गई। 13 अन्य छात्राएं घायल हो गईं। सबकी उम्र 16 से 17 साल है। 5 गंभीर घायल छात्राओं को राजकोट भेजा गया है। मौके पर अर्द्धसैनिक बलों के जवानों के  होने के चलते कई लोगों को समय रहते बचाया जा सका। आग पर 3-4 घंटे की मशक्कत के बाद काबू पाया जा सका।
 
उधर मृतकों के परिजनों को 4-4 लाख रुपए की सरकारी सहायता तथा घायलों के नि:शुल्क इलाज की घोषणा की गई है। ज्ञातव्य है कि देशभक्ति की भावना को बढ़ावा देने वाली कथाएं सुनाने के लिए हर साल आयोजित होने वाले इस राष्ट्रकथा शिविर में पूर्व में क्रिकेटर सचिन तेंदुलकर समेत कई दिग्गज भी भाग ले चुके हैं। (वार्ता)
राजकोट| Last Updated: शनिवार, 13 जनवरी 2018 (11:58 IST)
चित्र सौजन्य : फाइल फोटो



वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :