सजा सुनाने के बाद जज ने हताशा में फेंक दिया पेन

Last Updated: गुरुवार, 22 फ़रवरी 2018 (15:17 IST)

बेंगलुरु। अपराध का मामला इतना गंभीर था कि उसने जज को भी बहुत गहरी हताशा में धकेल दिया। यहां रेप और हत्या के एक मामले में मौत की सजा सुनाने के बाद न्यायाधीश ने नाराजगी में पेन ही फेंक दिया।

जज के सामने आए एक मामले में अपराधी ने एक गर्भवती महिला के साथ रेप कर उसकी हत्या कर दी थी। केस के बारे में अभियोजन पक्ष के वकील ने बताया कि हत्या के समय महिला पांच महीने की गर्भवती थी। इसलिए 22 साल के अपराधी को दो हत्याओं का दंड दिया जाए।

रेप की वारदात इतनी भयानक थी कि महिला के शरीर पर दांत से काटे जाने के निशान तक बन गए थे। अपराधी प्रशांत चोरी करने के इरादे से घर में घुसा और महिला का मंगलसूत्र चुराने की कोशिश की। मौका पाकर प्रशांत ने महिला से रेप कर दिया और इसके बाद उसने चोरी को भी अंजाम दिया।

अपराध छिपाने के लिए उसने महिला से सिर पर वार कर उसकी मौके पर ही हत्या कर दी। महिला के शरीर पर दांतों से कांटे जाने के निशान भी पाए गए जिससे घटना की क्रूरता ने जज को भी बेचैन कर दिया।

खून से सने कपड़ों में जब वह घर से बाहर आया तो पड़ोसियों ने उसे देखा। उनके बयानों के आधार पर उसे गिरफ्तार किया गया। उसके पास से करीब 80,000 रुपए की कीमत के पांच मंगलसूत्र बरामद किए गए।

हत्यारे ने इन आरोपों से इनकार किया लेकिन वह अपराधी पाया गया। उसे जज प्रकाश खंडेरी ने मौत की सजा दी और सजा सुनाने के बाद जज ने हताशा में पेन ही फेंक दिया।


और भी पढ़ें :