ढींगरा फैमिली फाउंडेशन एवं शिवना प्रकाशन द्वारा सम्मानों की घोषणा

Dhingra Family Foundation
- शहरयार अमजद ख़ान, शिवना प्रकाशन

अमेरिका ने अपने प्रतिष्ठित तथा ने अपने घोषित कर दिए हैं।
ढींगरा फैमिली फाउंडेशन सम्मानों की चयन समिति के संयोजक पंकज सुबीर ने बताया कि 'ढींगरा फैमिली फाउंडेशन लाइफटाइम एचीवमेंट सम्मान' हिन्दी के वरिष्ठ साहित्यकार तथा केंद्रीय हिन्दी संस्थान के उपाध्यक्ष डॉ. कमल किशोर गोयनका को 'ढींगरा फैमिली फाउंडेशन अंतरराष्ट्रीय कथा सम्मान' उपन्यास विधा में हिन्दी की चर्चित लेखिका मनीषा कुलश्रेष्ठ को उपन्यास 'मल्लिका' हेतु तथा कहानी विधा में हिन्दी के वरिष्ठ कथाकार और समावर्तन के संपादक मुकेश वर्मा को कहानी संग्रह 'सत्कथा कही नहीं जाती' हेतु प्रदान किए जाएंगे।

शिवना प्रकाशन के सम्मानों की चयन समिति के संयोजक नीरज गोस्वामी ने बताया कि 'शिवना कथा सम्मान' हिन्दी की चर्चित लेखिका गीता को उपन्यास 'हसीनाबाद' के लिए, 'शिवना कविता सम्मान' महत्वपूर्ण कवि वसंत सकरगाये को कविता संग्रह 'पखेरू जानते हैं' तथा 'शिवना कृति सम्मान' शिवना प्रकाशन से प्रकाशित उपन्यास 'पार्थ तुम्हें जीना होगा' के लिए कथाकार, कवयित्री ज्योति जैन को प्रदान किए जाएंगे।

शिवना प्रकाशन तथा ढींगरा फैमिली द्वारा संयुक्त रूप से 17 मार्च 2019, रविवार को भोपाल के राज्य संग्रहालय के सभागार में आयोजित 'ढींगरा फैमिली फाउंडेशन- शिवना साहित्य समागम' में ये सम्मान प्रदान प्रदान किए जाएंगे। 4 सत्रों में आयोजित होने वाले इस समागम में शिवना प्रकाशन की पुस्तकों का विमोचन, रचना पाठ, सम्मान समारोह तथा विमर्श का समावेश रहेगा जिसमें हिन्दी के महत्वपूर्ण साहित्यकार भाग लेंगे।

ढींगरा फैमिली फाउंडेशन, अमेरिका का यह तीसरा सम्मान समारोह है। हिन्दी की वरिष्ठ कथाकार, कवयित्री, संपादक डॉ. सुधा ओम ढींगरा तथा उनके पति डॉ. ओम ढींगरा द्वारा स्थापित इस फाउंडेशन का यह सम्मान इससे पूर्व उषा प्रियंवदा, चित्रा मुद्गल, महेश कटारे, डॉ. ज्ञान चतुर्वेदी, सुदर्शन प्रियदर्शिनी तथा हरिशंकर आदेश को प्रदान किया जा चुका है। सभी सम्मानों के तहत सम्मान राशि, शॉल, फल तथा सम्मान पट्टिका प्रदान की जाएगी।


और भी पढ़ें :