मानसून में मसालेदार चिकन का मजा


नई दिल्ली|
 
- ऋषिना घिल्डियाल  > हम में से अधिकांश लोग वर्षा आरंभ होते ही स्वाभाविक रूप से भजिया और चाय की सोचने लगते हैं, लेकिन जब मानसून 3 महीने तक चलने वाला हो तब कुछ समय बाद यह ऊबाऊ लग सकता है। हम जानते हैं कि मानसून के साथ सीलन और नीरसता, सर्दी और खांसी भी आती हैं और चाहे जितनी आवश्यकता हो, पोषण को भी दरकिनार नहीं किया जा सकता। 
 
वर्षा हमारे भोजन में मसालों का स्वाभाविक बहाना भी बन जाती है। मैं उपयुक्त ठंडा, डिब्बाबंद और पहले से कटे हुए तैयार रखता हूं। हालांकि चिकन हमारे पड़ोस में ही मिल जाता है, लेकिन मुझे बूचड़खाने नहीं जाना पड़ता है और स्वास्थ्य एवं गुणवत्ता बनी रहती है। इससे मुझे फटाफट सुविधाजनक ढंग से रुचिकर भोजन बनाने में आसानी होती है, जो प्रोटीनयुक्त और रोग प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने वाले गुणों से भरपूर होते हैं (यह वर्षा ऋतु में एक वरदान है, जब संक्रमण की आशंका बढ़ी रहती है)। इसमें औषधीय गुणों वाले अदरक, कालीमिर्च, मिर्ची, लहसुन मिला दें जिन्हें मैं परिवार को सिसकी और बुखार से बचाने के लिए दिल खोलकर मिलाता हूं।
 
चिकन के साथ भोजन पकाने की खूबसूरती यह है कि इसे रुचिकर सूप से लेकर स्टू, कबाब और खिचड़ी, एक कटोरी अनाज, नूडल शोरबा, तृप्तिदायक करी और अनेक दूसरे अलग-अलग व्यंजनों में आसानी से प्रयोग किया जा सकता है। मुझे अलग-अलग स्वाद वाले व्यंजन तैयार करने में मजा आता है। इसलिए कोई आश्चर्य नहीं कि मेरे डाइनिंग टेबल पर आपको कटे हुए मसालेदार बोनलेस चिकन के साथ खिचड़ी दिख सकती है। यकीन मानिए, यह बेहद स्वादिष्ट होता है। 
 
चिकन की विलक्षणता से बचना मुश्किल है और यह मेरे घर के मैन्यू में नियमित रूप से सम्मिलित रहता है। मेरे परिवार को सूप और रसदार व्यंजन पसंद हैं इसलिए मैं सूप की सामग्री के लिए घर में सूप बोन्स हमेशा उपलब्ध रखता हूं। चिकन में जितना पोषक तत्व है और बेशक इसका जो स्वाद है, यह नूडल, जापानी रैमन, वियतनामी फो से लेकर कालीमिर्च से भरे मजेदार चिकन रसम तक के लिए स्वाभाविक आधार है, जो बरसात के मौसम के लिए एकदम उपयुक्त है। सामान गर्म करें, कटे हुए बोनलेस टुकड़े, सब्जियां, नूडल्स और चावल भी व पसंद की चटनी मिलाएं और भाप पर कटोरा भर पोषक सूप तैयार कर स्वाद लें।
 
बड़े बोन वाले पैकेज्ड करी कट चिकन और बोनलेस मीट मेरे करी आधारित व्यंजनों की स्वाभाविक सामग्री है। मैं अपने स्टू, करी और विभिन्न प्रकार के मसालेदार भारतीय व्यंजनों में करता हूं। लेकिन फिर भी गांठदार सब्जियों, प्याज, गोल मिर्च, ताजा शाक और लहसुन के साथ तीखी चिकन स्टू कभी गड़बड़ नहीं हो सकती और इनका मिश्रण सचमुच आसान होता है। हमें थाई करी पसंद है और भात के साथ इन स्वादिष्ट नारियलयुक्त शोरबे में परोसी गई चिकन का स्वाद अद्भुत होता है। करी में मिला हुआ अदरक पाचन में मदद करता है और मिर्ची की तपिश शरीर को गर्म रखती है, चिपचिपे बरसाती दिनों के लिए बिलकुल मुफीद।
 
मैं चिकन को सीधे चावल से बने व्यंजनों में भी मिला देता हूं। सामान्य भुने चावल से लेकर खिचड़ी तक और मसाले भात में भी। आप पुलाव-पकौड़ा बनाने के लिए कीमा भी इस्तेमाल कर सकते हैं। चिकन कीमा तैयार रखना भी अच्छा विचार है। आप लैसेन, बोलोग्ना सॉस, समोसे का मसाला या मसालेदार कीमा बना सकते हैं जिन्हें जरूरत पड़ने पर गर्मागर्म परांठों के साथ फटाफट खा सकते हैं। कीमा काफी जल्दी पक जाता है और काफी स्वादिष्ट भी लगता है। इसे साफ और सुविधाजनक पैकिंग में रखना और भी बेहतर होता है। 
 
मानसून के पहले स्वास्थ्यकर ढंग से तैयार, स्वच्छ एवं पोषक ठंडा चिकन जमा कर लें ताकि जब बरसात के कारण मन ऊब रहा हो तब परिवार के लिए तत्क्षण स्वास्थ्यकर स्वादिष्ट भोजन तैयार कर सकें। हर किसी को खुश करने के लिए मसालेदार गर्मागर्म असली उत्तम आहार जैसा और कुछ नहीं हो सकता। जहां तक मेरी बात है, मैं तो स्टॉक करूंगा ही।
> प्रस्तुति - रितेश थापा   

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :