NDA के हरिवंश राज्यसभा के उपसभापति चुने गए

Last Updated: गुरुवार, 9 अगस्त 2018 (13:40 IST)
नई दिल्ली। राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार हरिवंश को राज्यसभा का उपसभापति चुन लिया गया। उनके पक्ष में 125 मत पड़े जबकि विरोध में 105 सदस्यों ने मतदान किया।
हरिवंश के खिलाफ ने विपक्ष ने कांग्रेस के को अपना उम्मीदवार बनाया था। विपक्ष के कुछ सदस्य मतदान के दौरान सदन में मौजूद नहीं थे।

ALSO READ:
हरिवंश : पत्रकार से राज्यसभा के उपसभापति पद तक


राज्यसभा की कार्यवाही शुरू होते ही सभापति एम. वेंकैया नायडू के जरूरी कागजात पटल पर रखवाने के तुरंत बाद उपसभापति के चुनाव की प्रक्रिया शुरू की। उन्होंने बताया कि उपसभापति के चुनाव के लिए नौ नोटिस मिले और संबंधित सदस्यों से अपने उम्मीदवारों के पक्ष में प्रस्ताव पेश करने को कहा। हरिवंश के पक्ष में चार तथा हरिप्रसाद के पक्ष में पांच प्रस्ताव पेश किए गए।

सबसे पहले जनता दल यू के रामचंद्र प्रसाद सिंह ने हरिवंश के पक्ष में प्रस्ताव पेश किया और रिपब्लिकन पार्टी (ए) के सदस्य एवं केंद्रीय मंत्री रामदास अठावले ने इसका समर्थन किया। इसके बाद बहुजन समाज पार्टी के सतीश चंद्र मिश्रा ने हरिप्रसाद के नाम का प्रस्ताव किया और कांग्रेस के विवेक तन्खा ने समर्थन किया।
राष्ट्रीय जनता दल की मीसा भारती ने हरिप्रसाद के पक्ष में प्रस्ताव रखा जिसका तेलुगू देशम पार्टी के वाईएस चौधरी ने समर्थन किया। इसके अलावा कांग्रेस के आनंद शर्मा ने, समाजवादी पार्टी रामगोपाल यादव तथा राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी की वंदना चव्हाण ने भी हरिप्रसाद के समर्थन में प्रस्ताव पेश किया जिनका समर्थन क्रमश: कांग्रेस के भुवनेश्वर कलिता, कांग्रेस के अहमद अशफाक करीम और कांग्रेस के ही जी. कुपेंद्र रेड्डी ने किया।

हरिवंश के पक्ष में भाजपा के अमित शाह, शिवसेना के संजय राउत और शिरोमणि अकाली दल के सुखदेवसिंह ढींढसा ने भी प्रस्ताव पेश किए जिनका समर्थन क्रमश: भाजपा के रामविचार नेताम, जदयू की कहकशां परवीन और अन्नाद्रमुक की विजिला सत्यानंत ने किया।


* मोदी ने कहा कि पूर्व प्रधानमंत्री चंद्रशेखर के चहेते थे हरिवंश।
* हरिवंशजी कलम के धनी हैं।
* प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी ने नवनिर्वाचित उपसभापति हरिवंश को बधाई दी।
* 20 दिन दूसरी बार विपक्ष को शिकस्त मिली।
* पहली बार अविश्वास प्रस्ताव के दौरान विपक्ष को हार मिली, जबकि दूसरी बार आज यानी गुरुवार को राज्यसभा उपसभापति के चुनाव में।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :