मोदी के मंत्री बोले, मुफ्त में मिलता है पेट्रोल, बवाल मचने पर मांगी माफी

पुनः संशोधित रविवार, 16 सितम्बर 2018 (16:51 IST)
नई दिल्ली। केंद्रीय सामाजिक न्याय एवं अधिकारिता राज्यमंत्री रामदास अठावले ने अपने उस बयान पर माफी मांग ली है, जिसमें उन्होंने कहा था कि पेट्रोल-डीजल की बढ़ती कीमतों से उन्हें कोई परेशानी नहीं हैं क्योंकि वह एक मंत्री हैं और इस वजह से उन्हें मुफ्त में मिलता है।

बता दें कि शनिवार को अपने एक बयान में आठवले ने हल्के फुल्के अंदाज में कहा था, मैं पेट्रोल-डीजल के बढ़ते दामों से परेशान नहीं हूं क्योंकि मैं मंत्री हूं। मेरा मंत्री पद जाएगा तो मैं परेशान हो जाऊंगा लेकिन जनता परेशान है। इसे समझ सकते हैं और कीमतें कम करने का दायित्व सरकार का है।'

केंद्रीय मंत्री के इस बयान पर लोगों की तीखी प्रतिक्रियाएं सामने आई थीं। खासकर सोशल मीडिया पर लोगों ने आठवले के इस बयान की खूब आलोचना की। इस बीच अठावले ने अपने इस बयान को लेकर माफी मांगी है।

मोदी सरकार में मंत्री अठावले ने कहा कि केंद्र सरकार पेट्रोल-डीजल के बढ़ते भावों पर लगाम लगाने का प्रयास कर रही है पर राज्यों को भी इसके लिए कोशिश करनी चाहिए।

उन्होंने कहा कि अगर पेट्रोल डीजल के भाव कम करने हैं तो राज्यों को भी इसके लिए कोशिश करनी चाहिए क्योंकि इसमें राज्य सरकार के भी कर होते हैं, केंद्र के भी कर होते हैं। इन्हें कम करने पर पेट्रोल-डीजल की कीमतें घट सकती हैं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :