सेना में किसी के साथ भेदभाव नहीं, सभी यूनिट होती हैं युद्धक

पुनः संशोधित गुरुवार, 12 अक्टूबर 2017 (17:33 IST)
नई दिल्ली। सेना ने गैर-युद्धक इकाइयों के कर्मियों के साथ भेदभाव किए जाने की आशंकाओं को खारिज करते हुए स्पष्ट किया है कि किसी भी कोर के साथ कोई भेदभाव नहीं किया जाता और सेवा कोर सहित सभी इकाइयों के कार्मिकों से के कार्मिक के बराबर व्यवहार किया जाता है।

सेना ने यह भी स्पष्ट किया है कि इस बात को लेकर कभी विवाद नहीं रहा कि सेवा कोर सहित सभी यूनिट लड़ाकू होती हैं और सेना ने किसी भी स्तर पर यह नहीं कहा है कि सेवा कोर गैर युद्धक इकाई होती है।




सेना के कमांडरों के पिछले चार दिन से यहां चल रहे सम्मेलन में सेवा कोर के गैर युद्धक इकाई होने के मुद्दे पर विस्तार से चर्चा की गई। सम्मेलन में सेना की सेवा के अधिकारियों ने आशंका जताई कि गैर युद्धक इकाई में होने के मद्देनजर उनके साथ समान व्यवहार किया जाता है। इस तरह के कुछ मामलों के उच्चतम न्यायालय में पहुंचने के मद्देनजर सम्मेलन में सेना द्वारा न्यायालय में रखे गए पक्ष के बारे में भी कमांडरों को जानकारी दी गई।





यह भी बताया गया कि जनरल ने सेना की कमान संभालने के तुरंत बाद कहा था कि वह सेना की सभी कोर और शाखाओं को एक समान रखेंगे और सभी को योग्यता के अनुसार उनका हक मिलेगा।








सम्मेलन में यह भी कहा गया कि यदि किसी कोर या शाखा को किसी तरह की आशंका हो या किसी तरह की विसंगति सामने आएगी तो उसका समधान किया जाएगा और सेना प्रमुख के आश्वासन के बाद सभी विसंगतियों को दूर किया जाएगा।




सेना ने उच्चतम न्यायालय में कहा कि सहायक लड़ाकू यूनिटों तथा लॉजस्टिक्स यूनिटों से अधिकारियों, जूनियर कमीशन अधिकारियों और अन्य रैंकों को कुछ समय के लिए नियंत्रण रेखा, छोटी लड़ाइयों और आतंकवादरोधी अभियानों के लिए आतंकवादरोधी यूनिटों में तैनात किया जाता है। इससे इन अधिकारियों को संचालन संबंधी जरूरी अनुभव मिल जाता है। यह भी उल्लेखनीय है कि इस तरह के अभियानों में उनका प्रदर्शन काफी बेहतर रहा है।







सेना ने यह भी कहा है कि सेना में हर जवान और अधिकारी युद्ध तथा शांतिकाल दोनों में सामूहिक रूप से काम करता है और इन दोनों समय की भूमिकाओं को अलग करके नहीं देखा जा सकता।






सेना की ओर से यह भी साफ किया गया है कि लड़ाकू यूनिट, लड़ाकू सहायक यूनिट और सेवा कोर सेना की संचालन शाखाएं हैं और उनके निश्चित कर्तव्य और भूमिका हैं। सेना ने सेवा कोर की विभिन्न अभियानों के दौरान लड़ाकू यूनिटों को साजो-सामान पहुंचाने संबंधी भूमिकाओं को कम आंके बिना कहा कि एएससी, आर्डिनेंस एंड इलेक्ट्रानिक्स एंड मेकेनिकल इंजीनियर कोर के कमान अधिकारियों को अग्रिम मोर्चों पर भेजे जाने की जरूरत नहीं होती। (वार्ता)

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

खुशखबर, अब घर बैठे मिलेगा ड्राइविंग लाइसेंस, जानिए कितना ...

खुशखबर, अब घर बैठे मिलेगा ड्राइविंग लाइसेंस, जानिए कितना लगेगा खर्च...
नई दिल्ली। दिल्ली सरकार अगले महीने से दिल्लीवासियों को 50 रुपए के अतिरिक्त शुल्क पर जन्म ...

सावधान, आएगा भयावह भूकंप, मचा देगा तबाही

सावधान, आएगा भयावह भूकंप, मचा देगा तबाही
देहरादून। भूगर्भीय हलचल और इसके प्रभावों का विश्लेषण करने वाले, देश के चार बड़े संस्थानों ...

सात दिनों तक रेडिएटर का पानी पीकर बचाई जान

सात दिनों तक रेडिएटर का पानी पीकर बचाई जान
वॉशिंगटन। अमेरिका में कैलिफोर्निया तट के पास एक चोटी के नीचे भीषण दुर्घटना का शिकार हुई ...

ट्विटर पर मचा कत्लेआम

ट्विटर पर मचा कत्लेआम
माइक्रो ब्लॉगिंग साइट ट्विटर ने टाइप किया है कि वह एक हफ्ते का सफाई अभियान चलाएगा। इसकी ...

नौकरी छूटने पर कब और कितना EPF निकाल पाएंगे

नौकरी छूटने पर कब और कितना EPF निकाल पाएंगे
एंप्लॉयी प्रोविडेंट फंड यानी ईपीएफ़ के ज़रिए कर्मचारी प्रॉविडेंट फंड के तहत भविष्य के लिए ...

लोकसभा में गर्मी, संसद के बाहर पानी ही पानी

लोकसभा में गर्मी, संसद के बाहर पानी ही पानी
नई दिल्ली। अविश्वास प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान शुक्रवार को जहां सरकार और विपक्ष के बीच ...

स्कूलों व कोचिंग सेंटरों में लगेगी सुझाव पेटी, एक चिट्ठी पर ...

स्कूलों व कोचिंग सेंटरों में लगेगी सुझाव पेटी, एक चिट्ठी पर हाजिर होगी पुलिस
होशंगाबाद। मध्यप्रदेश के होशंगाबाद जिले में बालिका सुरक्षा को लेकर पुलिस अनूठा प्रयोग ...

मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर सरकार हुई सख्‍त, वॉट्सएप और फेसबुक ...

मॉब लिंचिंग की घटनाओं पर सरकार हुई सख्‍त, वॉट्सएप और फेसबुक के साथ करेगी बैठक
सरकार ने देश में फर्जी और भ्रामक संदेश फैलने के कारण आक्रोशित भीड़ द्वारा निर्दोष ...

अविश्वास प्रस्ताव Live update : मोदी सरकार का ऐतिहासिक दिन, ...

अविश्वास प्रस्ताव Live update : मोदी सरकार का ऐतिहासिक दिन, राहुल पर होगी देश की नज़र
नई दिल्ली। विपक्षी पार्टी कांग्रेस को आज अविश्वास प्रस्ताव पर अपने विचार रखने के लिए 38 ...

ट्रक-बस ऑपरेटर्स की अनिश्चिकालीन हड़ताल शुरू, जरूरी सामानों ...

ट्रक-बस ऑपरेटर्स की अनिश्चिकालीन हड़ताल शुरू, जरूरी सामानों की सप्लाई बंद
नई दिल्ली। ट्रक और बस ऑपरेटर्स संगठन (AIMTC) अपनी पुरानी मांगों के साथ 20 जुलार्इ यानी आज ...

Oppo Find X दुनिया का सबसे खास कैमरे वाला स्मार्टफोन भारत ...

Oppo Find X दुनिया का सबसे खास कैमरे वाला स्मार्टफोन भारत में लांच, 35 मिनट में होगा फुल चार्ज
ओप्पो ने अपना Oppo Find X भारत में लांच कर दिया है। इस फोन को सबसे पहले पेरिस में लांच ...

Oppo A3s स्मार्टफोन 'सुपर फुल स्क्रीन' पैनल और आ सकते हैं ...

Oppo A3s स्मार्टफोन 'सुपर फुल स्क्रीन' पैनल और आ सकते हैं ये दमदार फीचर्स
चीनी कंपनी Oppo भारत में एक से बढ़कर एक स्मार्ट फोन लांच कर रही है। अब ओप्पो नया फोन लांच ...

एमटेक ने लांच किए दो फीचर फोन

एमटेक ने लांच किए दो फीचर फोन
नई दिल्ली। किफायती मोबाइल फोन बनाने वाली कंपनी एम टेक ने दो नए फीचर फोन रागा और वी 10 लॉच ...

नौ कैमरे वाला स्मार्ट फोन, DSLR कैमरा भी हो जाएगा फेल

नौ कैमरे वाला स्मार्ट फोन,  DSLR कैमरा भी हो जाएगा फेल
मोबाइल कंपनियां रोज नई टेक्नोलॉजी ला रही हैं। अब मोबाइल का इस्तेमाल बातें करने के लिए ...

लांच हुआ Spice F311, 6 हजार से कम कीमत में मिलेंगे ये ...

लांच हुआ Spice F311, 6 हजार से कम कीमत में मिलेंगे ये बेहतरीन फीचर्स
स्पाइस की भारत के स्मार्टफोन मार्केट में एक अलग पहचान है। स्पाइस ने अपना नया स्मार्ट फोन ...