भारतीय वायुसेना द्वारा पाकिस्तान में जैश-ए-मोहम्मद के कैंप पर हमले के बाद अंतराष्ट्रीय सीमा पर गांव खाली कराए

Last Updated: मंगलवार, 26 फ़रवरी 2019 (17:17 IST)
जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में पिछले दिनों हुए आतंकवादी हमले के बाद भारत और पाकिस्तान की सीमा पर यूं तो तनाव बना ही हुआ था, लेकिन पाक सीमा में घुसकर आतंकवादियों के खिलाफ भारत की सर्जिकल स्ट्राइक-2 के बाद यह तनाव चरम पर है। जम्मू-कश्मीर से लगी अंतरराष्ट्रीय सीमा पर जहां पाकिस्तान ने सैनिकों की संख्‍या बढ़ाने के साथ ही तोपखाना भी तैनात कर दिया है, वहीं भारतीय सेना भी अलर्ट पर है।

हमारे जम्मू कश्मीर संवाददाता के अनुसार जम्मू सीमा के अखनूर सेक्टर के सामने वाले क्षेत्रों में विशेषकर चिकन नेक क्षेत्र में पाक सेना ने एक टैंक डिवीजन को तैनात किया है। जबकि अखनूर से पंजाब की ओर बढ़ने वाली अंतरराष्ट्रीय सीमा पर पैदल सैनिक तैनात है। सांबा में बसंतर दरिया के किनारे भी पाक टैंकों की दो रेजिमेंटों को तैनात कर रहा है। रक्षा सूत्रों की मानें तो अखनूर के भूरे चक गांव से आरंभ होकर कारगिल के तुर्तुक तक जाने वाली एलओसी के सेक्टरों के सामने वाले पीओके में पाक सेना की भारी हलचल दिखाई दे रही है।
अधिकारियों के मुताबिक पाक सेना नई हवाई पट्टियां और बंकर भी बना रही है। पाक सेना की सबसे अधिक हलचल पुंछ तथा हाजी पीर सेक्टर में है। इन इलाकों में पाक सेना पिछले चार दिनों से गोलों की लगातार बरसात कर रही है। दूसरी ओर भारतीय सेना भी किसी भी अप्रिय स्थिति से निपटने के लिए पूरी तैयारी कर रही है।

भारतीय सीमा पर गांव खाली कराए : तनाव के मद्देनजर सीमांत क्षेत्र के गांवों के लोग दहशत में हैं। सैनिक सूत्रों के अनुसार, भारतीय सेना ने भी उन गांवों को खाली करवा लिया है, जो पाक हमले की सूरत में जवाब कार्रवाई में बाधा बन सकते हैं। ऐसे खाली करवाए गए गांवों में पुंछ, राजौरी के सेक्टरों के अतिरिक्त अंतरराष्ट्रीय सीमा के कुछ गांव भी शामिल हैं जो अखनूर सेक्टर में चिकन नेक में स्थित हैं।

भारत में मना जश्न, सारे दल एकजुट : भारतीय एयरफोर्स की कार्रवाई के बाद जहां देशभर जश्न, जोश और उत्साह का माहौल दिखाई दिया वहीं राजनीतिक दल भी एकजुट दिखाई दिए। कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि मैं वायुसेना के पायलटों को सलाम करता हूं। सर्जिकल स्ट्राइक-1 के समय भारतीय सेना से सबूत मांगने वाले दिल्ली के मुख्‍यमंत्री के सुर भी इस बार बदले हुए नजर आए। उन्होंने कहा कि बहादुर पायलटों को सलाम, उन्होंने हमें गौरवान्वित किया।

नरेन्द्र मोदी और भाजपा के धुर विरोधी आल इंडिया मजलिस ए इत्तेहादुल मुसलमीन के प्रमुख असदुद्दीन ओवैसी ने भारतीय वायुसेना की कार्रवाई का समर्थन करते हुए कहा कि हम सरकार के साथ हैं। कांग्रेस प्रवक्ता प्रियंका चौधरी ने कहा कि पाकिस्तान को करारा जवाब दिया गया। एयरफोर्स के जवानों को हम सलाम करते हैं। भाजपा अध्‍यक्ष अमित शाह ने कहा कि प्रधानमंत्री मोदी के नेतृत्व में देश सुरक्षित है। मध्यप्रदेश के पूर्व मुख्‍यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने कहा कि हम आतंकवादियों की कमर ही नहीं तोड़ेंगे, उन्हें खोदकर गाड़ देंगे।

इमरान की किरकिरी : दूसरी ओर भारत की कार्रवाई से पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान की जमकर किरकिरी हुई है। पाकिस्तानी संसद में इमरान खान शर्म करो जैसे नारे लगे। यह भी ध्यान रखने वाली बात है कि खैबर पख्तूनख्वा प्रांत जहां हुई है, वह इमरान का संसदीय क्षेत्र भी है।

 

और भी पढ़ें :