पहली महिला रक्षामंत्री जाएंगी सियाचिन

Author सुरेश एस डुग्गर|
जम्‍मू। केंद्रीय रक्षामंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को कश्मीर में एलओसी से सटी सेना की फारवर्ड पोस्टों का दौरा किया। जानकारी के मुताबिक रक्षामंत्री ने एलओसी से सटी सेना की फारवर्ड पोस्ट का दौरा करते हुए सुरक्षा इंतजामों की समीक्षा की। इस दौरान रक्षामंत्री ने सैन्य अधिकारियों से नियंत्रण रेखा पर सुरक्षा संबंधित विषयों पर बातचीत की।
इसके अलावा रक्षामंत्री ने एलओसी पर तैनात सेना के जवानों से मुलाकात भी की। पद ग्रहण करने के बाद एलओसी के पहले दौरे पर पहुंची रक्षामंत्री ने जवानों का मनोबल बढ़ाते हुए उन्हें दुश्मन को नापाक हरकतों पर करारा जवाब देने के निर्देश दिए। इसके अलावा रक्षामंत्री ने जवानों से उनके अनुभवों के बारे में भी बातचीत की।

इससे पूर्व शुक्रवार को श्रीनगर पहुंची रक्षामंत्री का सेना के शीर्ष अधिकारियों ने स्वागत किया। रक्षामंत्री के साथ सेना प्रमुख जनरल विपिन रावत भी अपने कश्मीर दौरे पर पहुंचे। इस दौरान सेना की उत्तरी कमान के कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल देवराज अनबू, चिनार कोर के जीओसी जेएस संधू समेत कई वरिष्ठ अधिकारियों ने रक्षामंत्री और सेना प्रमुख का स्वागत किया।
गौरतलब है कि रक्षा मंत्रालय का पद भार संभालने के बाद यह उनका जम्मू एवं कश्मीर का पहला दौरा है। रक्षा सूत्रों के अनुसार राज्य की पहली यात्रा पर आई रक्षा मंत्री थल सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत के साथ शुक्रवार सुबह यहां पहुंचीं और नियंत्रण रेखा पर स्थिति का जमीनी आकलन करने के लिए सीधे उत्तर कश्मीर के कुपवाड़ा सेक्टर चली गईं।

कुपवाड़ा से लौटने पर सेना के वरिष्ठ अधिकारी रक्षा मंत्री को उग्रवाद से निपटने और घुसपैठ विरोधी अभियानों समेत घाटी की समूची स्थिति के बारे में जानकारी देंगे। रक्षा मंत्री को आज राज्यपाल एनएन वोहरा और मुख्यमंत्री महबूबा मुफ्ती से भी मुलाकात करनी है। वहीं दौरे के दूसरे दिन शनिवार को रक्षा मंत्री लद्दाख क्षेत्र जाएंगी, जहां वह वास्तविक नियंत्रण रेखा पर स्थिति का जायजा लेंगी।
इसके साथ ही रक्षा मंत्री दुनिया के सबसे ऊंचे युद्धक्षेत्र भी जाएंगी, जहां वह बुराई पर अच्छाई के प्रतीक पर्व दशहरा सैनिकों के साथ मनाएंगी। वहीं सेना द्वारा सर्जिकल स्ट्राइक का एक साल पूरा होने के मौके पर आयोजित किए जाने वाले एक विशेष समारोह में हिस्सा लेकर जवानों का मनोबल भी बढ़ाएंगी।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :