लाइफ कोचिंग : अपने व्यवहार में ढूंढें मुश्किलों का हल

वृजेन्द्रसिंह झाला|
बहुत से भारतीयों के लिए नया शब्द हो सकता है, लेकिन पश्चिमी देशों से आई इस विधा का भारत में तेजी से प्रचलन बढ़ रहा है। तनाव, पारिवारिक एवं व्यावसायिक उलझनों में एक लाइफ कोच व्यक्ति का अच्छा मददगार हो सकता है। 
 
वेबदुनिया से खास बातचीत में लाइफ कोच डॉ. आलोक पुरोहित ने बताया कि हर व्यक्ति विभिन्न परिस्थितियों में अलग-अलग तरह से व्यवहार करता है। वह किस तरह से व्यवहार करता है, यदि उसके बारे में वह बेहतर तरीके से समझ सके तो अपनी बहुत सी समस्याओं का हल ढूंढ सकता है। दूसरे शब्दों में कहें तो व्यक्ति के व्यवहार में ही उसकी समस्याओं का हल भी निहित होता है। 
 
लाइफ कोचिंग पर चर्चा करते हुए आलोक कहते हैं कि लाइफ कोचिंग एक नए तरह की लर्निंग है, जो एंटरप्रेन्योर, एक्जीक्यूटिव, सीनियर मैनेजर, बिजनेस ऑनर्स आदि के लिए है। इसमें व्यक्ति के व्यवहार को समझकर उसे मार्गदर्शन दिया जाता है और उसकी समस्याओं का समाधान प्रस्तुत किया जाता है।
आलोक कहते हैं कि पिछले कुछ सालों में पश्चिमी दुनिया में लाइफ कोचिंग का प्रचलन तेजी से बढ़ा है। एकाध साल से भारत में भी इसकी जरूरत महसूस की जा रही है। वे कहते हैं कि तेज रफ्तार जिंदगी, तनाव, उलझनें, व्यक्तिगत और व्यावसायिक समस्याएं आदि के चलते लाइफ कोचिंग की जरूरत पड़ती है। व्यक्ति के व्यवहार को समझकर आगे बढ़ना ही लाइफ कोचिंग की सबसे बड़ी विशेषता है।
 
इस विधा के माध्यम से कोच संबंधित व्यक्ति के व्यवहार को समझकर उसकी पीड़ा, नकारात्मकता को बाहर लाता है और उसके भीतर सकारात्मकता पैदा करता है, जिससे व्यक्ति की ताकत और विश्वास बढ़ता है। 
 
पुरोहित  कहते हैं कि लाइफ कोचिंग क्लासरूम ट्रेनिंग की तरह नहीं है। इसमें लोकेशन भी कोई मायने नहीं रखती। स्काइप और इंटरनेट के माध्यम से व्यक्ति कहीं भी ट्रेनिंग ले सकता है। यूं तो सप्ताह में एक घंटे का मार्गदर्शन पर्याप्त होता है, लेकिन कभी जरूरत के मुताबिक सप्ताह में दो बार भी ट्रेनिंग दी जा सकती है।
वे कहते हैं कि अनुभव हमें अच्छा भी सिखाते हैं और बुरा भी। भविष्य के निर्णय भी हमारे अनुभव के आधार पर ही होते हैं। कोचिंग के दौरान व्यक्ति अपनी विफलता, भय आदि कमजोरियों की चर्चा करता हैं। यह कोचिंग पूरी तरह गोपनीय होती है। कोच व्यक्ति की सामर्थ्य को विकसित करता है ताकि वह अपने जीवन में और सफलता अर्जित कर सके।
 
अगले पेज पर पढ़ें और सुनें... लाइफ कोचिंग के कुछ अनूठे टिप्स....
 

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।



और भी पढ़ें :