नागपंचमी पर करें हर समस्या का अंत, पढ़ें अचूक उपाय और मंत्र


इस वर्ष शुक्रवार, को नागपंचमी है। नाग या सर्प का पूजन तथा कालसर्प दोष के निवारणार्थ इससे अच्‍छा दिन और कोई नहीं है। पूरा श्रावण मास ही शिवपूजन के लिए प्रशस्त माना जाता है। जिस व्यक्ति की जन्म पत्रिका में कालसर्प दोष उपस्थित होता है, उसके जीवन में समस्या का अंत नहीं होता है। वैसे तो कालसर्प दोष की निवृत्ति पूजन करने से ही होती है। यदि हर वर्ष कराएं तो अधिक लाभ होगा। इससे बचने के उपाय निम्नलिखित हैं-
ALSO READ:
कालसर्प दोष शांति का पूर्ण व प्रामाणिक विधान


1. रुद्राभिषेक कराएं।
2. राहु-केतु का पूजन व जप-हवन आदि कराएं।
3. मां मनसादेवी व सर्पपूजन कराएं।
4. सर्पसूक्त के पाठों का पुरश्चरण कराएं।
5. नाग गायत्री यंत्र का पुरश्चरण कराएं।
6. जिस शिवलिंग पर नाग नहीं हो तो नाग देवता की प्रतिष्ठा कर ब्रह्म मुहूर्त में शिवजी पर नाग चढ़ाएं।
7. सपेरों से नाग को मुक्त कराएं।
8. कुल देवता, पितृ देवता तथा नाग देवता के मंत्रों का जाप करें।
जपे जा सकने वाले मंत्र निम्नलिखित हैं। सरल मंत्र दिए जा रहे हैं-

1. 'ॐ रां राहवे नम:।'
2. 'ॐ कें केतवे नम:।'
3. 'ॐ कुलदेवतायै नम:।'
4. 'ॐ पितृदेवतायै नम:।'
5. 'ॐ नागदेवतायै नम:।'
6. 'ॐ नागकुलाय विद्महे विषदंताय धीमहि तन्नो: सर्प प्रचोद्यात्।'
के लिए काले व नीले रंगों से बचें, चंदन का इत्र लगाएं, झूठ न बोलें, नशे से दूर रहें, सामाजिक नियमों का पालन करें, किसी का शोषण न करें। नित्य अपने ईष्ट देवता का पूजन-जप इत्यादि इ‍न दोषों को शिथिल करता है।


नागपंचमी पर पढ़ें यह अलौकिक नाग मंत्र... (देखें वीडियो)




वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :

ज्योतिष के अनुसार मंगल की खास विशेषताएं, जो आप नहीं जानते ...

ज्योतिष के अनुसार मंगल की खास विशेषताएं, जो आप नहीं जानते होंगे...
ज्योतिष के अनुसार हर ग्रह की परिभाषा अलग है। पौराणिक कथाओं में नौ ग्रह गिने जाते हैं, ...

विवाह के प्रकार और हिंदू धर्मानुसार कौन से विवाह को मिली है ...

विवाह के प्रकार और हिंदू धर्मानुसार कौन से विवाह को मिली है मान्यता, जानिए
शास्त्रों के अनुसार विवाह आठ प्रकार के होते हैं। विवाह के ये प्रकार हैं- ब्रह्म, दैव, ...

कृष्ण के 80 पुत्रों का रहस्य, साम्ब के कारण हुआ मौसुल युद्ध

कृष्ण के 80 पुत्रों का रहस्य, साम्ब के कारण हुआ मौसुल युद्ध
भगवान श्रीकष्ण ने आठ महिलाओं से विधिवत विवाह किया था। इन आठ महिलाओं से उनको 80 पुत्र मिले ...

गुलाब का एक फूल बदल सकता है जीवन की दिशा, जानिए 10 रोचक ...

गुलाब का एक फूल बदल सकता है जीवन की दिशा, जानिए 10 रोचक टोटके
हम आपके लिए लाए हैं सुंगधित गुलाब के फूल के कुछ ऐसे उपाय या टोटके जिन्हें आजमाकर आप अपने ...

आखिर क्यों होती हैं हमारे कामों में देरी, जानिए, क्या कहता ...

आखिर क्यों होती हैं हमारे कामों में देरी, जानिए, क्या कहता है ज्योतिष
जानते हैं कि जन्मपत्रिका में वे कौन सी ऐसी ग्रहस्थितियां व ग्रह होते हैं जो कार्यों में ...

प्राणायाम से पाएं दीर्घायु

प्राणायाम से पाएं दीर्घायु
हर कोई चाहता है कि जब तक वह जीवित रहे, स्वस्थ ही रहे। स्वस्थ रहते हुए ही अपने बच्चों को ...

ज्योतिष के अनुसार केतु की खास विशेषताएं, जो आप नहीं जानते ...

ज्योतिष के अनुसार केतु की खास विशेषताएं, जो आप नहीं जानते होंगे...
ज्योतिष के अनुसार हर ग्रह की परिभाषा अलग है। यहां पाठकों के लिए प्रस्तुत है केतु के बारे ...

शिव-पार्वती को समर्पित है महेश नवमी, आज और कल हर्षोल्लास से ...

शिव-पार्वती को समर्पित है महेश नवमी, आज और कल हर्षोल्लास से मनेगा पर्व
प्रतिवर्ष ज्येष्ठ मास में शुक्ल पक्ष की नवमी तिथि को महेश नवमी मनाई जाती है। वर्ष 2018 ...

21 जून 2018 का राशिफल और उपाय...

21 जून 2018 का राशिफल और उपाय...
जीवनसाथी के स्वास्थ्य की चिंता रहेगी। भूमि व भवन संबंधी बाधा दूर होगी। रोजगार मिलेगा। ...

21 जून 2018 : आपका जन्मदिन

21 जून 2018 : आपका जन्मदिन
अंक ज्योतिष के अनुसार आपका मूलांक तीन आता है। यह बृहस्पति का प्रतिनिधि अंक है।

राशिफल