मप्र विधानसभा अध्यक्ष के भाई कांग्रेसी खेमे में, लड़ सकते हैं चुनाव

Last Updated: बुधवार, 11 जुलाई 2018 (20:02 IST)
शैलेन्द्र दुबे, होशंगाबाद से
प्रदेश में जिस गति से विधानसभा चुनाव अपनी आमद दे रहा है, उसी गति से चुनावी सरगर्मियां भी बढ़ती जा रही हैं। एक ओर जहां विभिन्न अपनी मांगों को लेकर कर सत्तारूढ़ दल पर अपना दवाब बनाने की कोशिश कर रहे हैं, वहीं दूसरी ओर भाजपा के बागी व निष्कासित नेता भी बयानबाजी कर पार्टी की मुश्किलें बढ़ा रहे हैं।

इसी के चलते भाजपा से निष्कासित पूर्व विधायक एवं विस अध्यक्ष के भाई गिरिजाशंकर शर्मा ने के टिकट पर चुनाव लड़ने के संकेत देकर चुनावी पारा चढ़ा दिया है। गौरतलब है कि अभी कुछ ही दिन पूर्व शर्मा स्थानीय प्रवास पर आए कांग्रेस के दिग्गज नेता एवं पूर्व मुख्यमंत्री दिग्विजयसिंह से भी मुलाकात कर चुके हैं।

मंगलवार को प्रदेशाध्यक्ष की अगुवाई में कांग्रेस की एक अहम बैठक भोपाल में संपन्न हुई, जिसमें विभिन्न संगठनों एवं गैर-सरकारी संगठनों के पदाधिकारियों को आमंत्रित किया गया था। बैठक आने वाले विधानसभा चुनावों के लिए कांग्रेस के घोषणापत्र के संबंध में चर्चा के लिए बुलाई गई थी।

इस बैठक में पूर्व भाजपा विधायक गिरिजाशंकर शर्मा में पहुंचे थे। शर्मा ने कहा कि पिछले 15 वर्षों से कांग्रेस अपनी गलतियों के कारण सत्ता से बाहर रही है किन्तु अब जनता परिवर्तन चाहती है। यदि कांग्रेस पार्टी उन्हें चुनाव लड़ने का मौका देती है तो वे चुनाव लड़ने को तैयार हैं।


शर्मा ने स्पष्ट किया वे अब भाजपा में वापस नहीं जाएंगे। अब देखना यह है कि कांग्रेस और भाजपा दोनों ही दल उनके इस कदम पर क्या रुख अपनाते हैं।

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :