पतंगबाजी करते समय रखें ये सावधानियां...

> >
 
 
 
 
मकर संक्रांति का त्योहार तिल-गुड़ और पतंगबाजी के बिना अधूरा है। धार्मिक शास्त्रों के  अनुसार मकर संक्रांति के मौके पर तिल-गुड़ की मिठाई और पतंग उड़ाने की भी परंपरा है।  कई राज्यों में मकर संक्रांति के दौरान पतंग महोत्सव का आयोजन किया जाता है।

इस  मौके पर बच्चों से लेकर बड़े सभी पतंगबाजी करते हैं और पतंगबाजी के दौरान पूरा  आसमान रंग-बिरंगी पतंगों से भर जाता है। लेकिन पतंग उड़ाने के साथ-साथ हमें अपने  और दूसरों के भी स्वास्थ्य का ध्यान रखना भी बहुत जरूरी है ताकि कोई हानि न हो। आइए जानें पतंगबाजी करते समय कौन-कौन-सी सावधानियां अति आवश्यक हैं- 




 

 
 

वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।

और भी पढ़ें :