महाभारत के अनुसार यदि इन 10 लोगों को सीख दी तो पछताएंगे

हिंदू इतिहास ग्रंथ महाभारत में से जुड़ी तमाम समस्या और उनके समाधान बताए गए हैं। आपने देखा होगा कि बहुत से लोग आपको कोई न कोई देते हैं लेकिन खुद उस पर कभी अमल नहीं करते हैं। इसका मतलब यह कि अनेक लोग दूसरों से अच्छी बात या अच्छे व्यवहार की अपेक्षा रखते हैं, किंतु दूसरों की ऐसी ही अपेक्षाओं पर खरा नहीं उतर पाते हैं।

ऐसे लोगों के अलावा ऐसे भी लोग होते हैं जिन्हें सीख देना अर्थात मुसीबत मोल लेना या भैंस के आगे बीन बजाने जैसा होता है। ऐसे लोग आपके आसपास हो सकते हैं जो कभी भी सीखने या सुनने में रुचि नहीं लेते बल्कि आपकी बात का मजाक भी बना सकते हैं। सीधे शब्दों में कहें तो ऐसे लोगों से देश या धर्म की बात करना कलह, विवाद या अशांति का कारण भी बन सकता है।


महाभारत में ऐसे ही 10 लोगों के बारे में कहा गया है जिन्हें सीख देना समय की बर्बादी है।
1.नशेड़ी
2.पागल
3.क्रोधी
4.लापरवाह
5.भूखा
6.कामी
7.भयभीत
8.थका हुआ
9.जल्दबाज
10.लालची


उक्त लोगों को सीख देने का कोई मतलब नहीं क्योंकि वे अपनी ही समस्या से ग्रस्त रहते हैं तो आपकी सीख को कैसे सुनेंगे। कहना चाहिए कि ऐसे लोगों को सीख से ज्यादा जरूरत दवा की होती है।



और भी पढ़ें :