Widgets Magazine

मध्यप्रदेश का बजट...

भोपाल| Last Updated: बुधवार, 1 मार्च 2017 (12:24 IST)
भोपाल। वित्त मंत्री जयंत मलैया बुधवार को सुबह 11 बजे मध्यप्रदेश का बजट पेश किया। बजट से जुड़ी हर जानकारी... 


* कक्षा 1 से 11वीं तक एनसीईआरटी की किताबें 
* लाड़ली लक्ष्मी योजना के लिए 972 करोड़।
* निवेश को उच्चतर स्तर तक पहुंचाना सरकार का लक्ष्य। 
* ई-स्टांप और ई-पंजीयन कैशलेस होगा।  
* उद्यानिकी में निवेश के लिए 765 करोड़।
* 10 हजार किलोमीटर सड़कों के उन्नयन के लिए 200 करोड़।
* राष्ट्रीय शिक्षा मिशन के लिए 742 करोड़ रुपए। 
* मुख्‍यमंत्री तीर्थदर्शन योजना के लिए नए स्थल जोड़े जाएंगे। 
* 36 हजार नए शिक्षकों की भर्ती होगी। 
* 7वां वेतनमान 1 जनवरी, 2016 से लागू होगा। 
* सिंचाई के लिए 9850 करोड़ रुपए।
* गंभीर डैम परियोजना 2019 तक पूरी होगी। 
* 2017 18 से दो नई सिंचाई योजनाएं प्रस्तावित। 
* नर्मदा सेवा यात्रा  के लिए बजट की कमी नहीं होगी।
* पशुपालन के लिए 1001 करोड़ रुपए।
* 25 नई लघु सिंचाई योजनाओं का भी प्रस्ताव। 
* आंगनबाड़ी पोषण के लिए 2918 करोड़। 
* ग्रामीण क्षेत्रों के डॉक्टरों के लिए विशेष भत्ता। 
* मुख्‍यमंत्री मेधावी छात्र योजना अगले साल से शुरू होगी। 
* सभी विधवाओं को दी जाएगी पेंशन। 
* मुख्‍यमंत्री तीर्थ दर्शन योजना के लिए राशि बढ़ाई गई। 
* सभी जिला अस्पतालों में शिशु इमरजेंसी वार्ड खुलेंगे। 
* जेल प्रशासन के लिए 297 करोड़ रुपए का प्रावधान। 
* आईटी पार्क बनाने के लिए 58 करोड़ रुपए का प्रावधान। 
* फसल बीमा योजना के लिए 2000 करोड़।
* अमृत योजना के लिए 700 करोड़ रुपए। 
* प्रदेश में सात नए मेडिकल कॉलेज खोले जाएंगे। 
* टाइगर रिजर्व पुनर्वास के लिए 96 करोड़।
* चिकित्सा शिक्षा के लिए 7432 करोड़ रुपए।
* कैशलेस के लिए पीओएस मशीन होगी करमुक्त। 
* पर्यटन को बढ़ाने के लिए 256 करोड़।
* विकास दर 12.21 फीसदी रहने का अनुमान।
* नक्सलवाद को रोकने के लिए नई बटालियन। 
* नर्मदा नदी संरक्षण के लिए 65 करोड़ रुपए।
* निर्मल भारत मिशन के लिए 750 करोड़ रुपए। 
* मेडिकल कॉलेजों के इंफ्रास्ट्रक्चर के लिए 115 करोड़।
* नर्मदा नदी के किनारे से 66 शराब की दुकानें बंद की जाएंगी। 
* बिजली कंपनियों को 8736 करोड़ रुपए की सब्सिडी देगी सरकार।
* प्राथमिक शिक्षा के लिए 3400 करोड़।
* गरीबों के लिए दीनदयाल रसोई योजना की शुरुआत होगी। 

Widgets Magazine
वेबदुनिया हिंदी मोबाइल ऐप अब iOS पर भी, डाउनलोड के लिए क्लिक करें। एंड्रॉयड मोबाइल ऐप डाउनलोड करने के लिए क्लिक करें। ख़बरें पढ़ने और राय देने के लिए हमारे फेसबुक पन्ने और ट्विटर पर फ़ॉलो भी कर सकते हैं।
Widgets Magazine